आहत हैं डॉ.राजकुमार गौतम! नहीं पूछ रहीं संगीता बलवंत

0
186

प्रतीकात्मक

गाजीपुर : बसपा के विधायक रहे डॉ.राजकुमार गौतम अब भाजपा में हैं। उन्हें उम्मीद थी कि भाजपा सदर सीट से टिकट देगी। पार्टी सोशल इंजीनियरिंग के तहत संगीता बलवंत को टिकट दी। संगीता बलवंत का प्रचार अभियान जोरशोर से शुरू है लेकिन गौर करने की बात कि वह डॉ.गौतम को अब तक अपने अभियान का हिस्सा नहीं बनाई हैं। इसके लिए उनसे बात भी नहीं की हैं जबकि डॉ.गौतम का सदर सीट पर अपना खुद का भी जनाधार है। वह क्षेत्र में उपलब्ध भी हैं। अपने स्तर से जनसंपर्क कर भाजपा को मजबूत बनाने में लगे हैं। संगीता बलवंत की ओर से खुद की उपेक्षा पर डॉ.गौतम का कोई सार्वजनिक बयान तो नहीं आया है लेकिन उनके प्रतिनिधि फूलचंद सिंह ने जरूर इस आशय की बात सोशल मीडिया पर शेयर किया है। उन्होंने डॉ.गौतम की राजनीतिक हैसियत का जिक्र करते हुए लिखा है-‘बहुजन समाज पार्टी के सिम्बल पर विधानसभा क्षेत्र जमानियां से 2007 में विधायक बने डॉ.राजकुमार सिह गौतम की गाजीपुर की राजनीति मे धमाकेदार इन्ट्री हुई। विधानसभा क्षेत्रों के नये परिसिमन में विधानसभा जमानियां का दो भागों में बंटवारा हुआ। आधा भाग जमानियां उस पार जमानियां और आधा भाग करण्डा ब्लाक और सदर ब्लाक के हिस्सा गाजीपुर सदर विधानसभा क्षेत्र में सम्मलित हो गया। नये परिसिमन के आधार पर डॉ.गौतम ने बसपा के सिंबल पर वर्ष 2012 मे गाजीपुर सदर से चुनाव लड़ा और लाख सत्ता विरोधी लहर के बाद भी मात्र 241 मत से हारे या हराये गए। बसपा कार्यकर्ताओं मे डॉ. राजकुमार गौतम की लोकप्रियता अपने चरम पर थी।

वर्ष2015-2016 मे डॉ.राजकुमार गौतम को पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप लगा कर पहले सदर विधानसभा क्षेत्र के प्रभारी पद से हटाया गया और फिर पार्टी से भी बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। काफी दिनों तक पार्टी मे वापसी की उम्मीद में डॉ. गौतम ने काफी दिन व्यतीत किया लेकिन बसपा मे वापसी की उम्मीद खत्म होने पर डॉ.राजकुमार सिह गौतम ने भाजपा का दामन 31 दिसम्बर 2016 को थाम लिया। दो जनवरी 2017 को लखनऊ में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की परिवर्तन महारैली में 40बस और 60 चार पहिया वाहनों में भीड़ ले गए। 6जनवरी 2017 को डॉ.राजकुमार गौतम के गाजीपुर में भाजपाई बन कर प्रथम आगमन पर उन लोगों द्वारा जबरदस्त स्वागत किया गया लेकिन भाजपा के वरिष्ठ नेताओं और कार्यकर्ताओं को डॉ. राजकुमार सिह गौतम के स्वागत समारोह से दूर रहने की सख्त हिदायत भाजपा के गाजीपुर के सुप्रीम बास द्वारा दिया गया था। गाजीपुर सदर सीट से टिकट चाहने वाले अनेक लोगों मे से एक डॉ.राजकुमार गौतम भी थे। टिकट नही मिलने से आहत डॉ. गौतम ने अन्य दावेदारों की तरह धरना प्रदर्शन या पुतला दहन जैसे कार्य से उनके समर्थक दूर ही रहे। भविष्य में अच्छा होगा यही मान कर डॉ.राजकुमार गौतम भाजपा का प्रचार करने के लिए अपने गाजीपुर आवास पडे़ हुए हैं लेकिन गाजीपुर के स्थानीय भाजपा नेताओं और खुद गाजीपुर सदर की भाजपा प्रत्याशी द्वारा प्रचार के लिए सम्पर्क नहीं करने पर काफी हताश और निराश दिखे। डॉ.राजकुमार सिह गौतम की खामोशी और लगातार क्षेत्र मे बने रहना, क्या गुल खिलायेगी यह तो समय ही बतायेगा’।

रिपोर्ट–डा०विजय प्रकाश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here