ड्रोन कैमरा रखेगा चप्पे चप्पे की नज़र

0
655

रायबरेली (ब्यूरो)- नगर पंचायत परशदेपुर में चौराहे के पास स्थित शिव मंदिर में प्रतिमा की स्थापना में शिव बारात के निकलने के मद्देनजर प्रशासन पूरी तरह सतर्क है। सन 2010 में हुए धार्मिक उपद्रव से सबक लेते हुए आज जिलाधिकारी के आदेशानुसार ज़िले के बहुत सारे आलाधिकारीयो ने जिस-जिस गली से शिव बारात निकालनी है उन सभी गलियो का मुआयना किया।

ए.एस.पी. शशिशेखर सिंह ने लोगो से भी पूछताछ की और सबको हिदायत दी कि सभी लोग शांति से रहे। जिस गली में पिछली बार विवाद हुआ था वहां पर श्रीमान शशि शेखर सिंह ने ड्रोन कैमरे लगाने की भी हिदायत दी। इसके अलावा वहा पर जितने घर है उन सभी घर मालिको को नोटिस देने को कहा कि अगर किसी के मकान की छत पर ईटा पत्थर या कोई भी विवादित चीज़ पाई जाती है तो उसके ज़िम्मेदार मकान मालिक होगा और उसके ऊपर कड़ी कार्यवाही की जायेगी।

सबसे पहले सभी अधिकारियों ने मंदिर का जायज़ा लिया उसके बाद पूरे काज़ी वार्ड नंबर 4 व वार्ड नंबर 3 में पैदल मार्च करते हुए वहां का जायज़ा लिया उसके बाद अंसार चौक से होते हुए वार्ड नंबर 9 की तरफ से उस गली में पहुचे जहा पर सन 2010 में विवाद शुरू हुआ था। पैदल मार्च में ए.एस.पी. शशि शेखर सिंह, ए.डी.एम. तिलक धारी यादव, एस.डी.एम. सलोन श्री राम सचान, सी.ओ. सलोन चरन सिंह, डलमऊ एस.डी.एम. प्रदीप कुमार वर्मा, डलमऊ सी.ओ आर के पांडेय, सी ओ चंद्र देव् यादव, अंडर ट्रेनिंग सी.ओ. प्रदीप कुमार यादव, कोतवाल सलोन जी.डी. शुक्ला, डीह थानाअध्यक्ष शिवशंकर गुप्ता, चौकी प्रभारी श्री राम पांडेय, एल.ई.यू. इंस्पेक्टर अरुण कुमार आदि के अलावा लगभग 3 दर्जन पुलिस के जवान मौजूद थे।

रिपोर्ट- अनुज मौर्य/शम्सी रिजवी 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY