नवरात्रि के चलते मंदिरों के आस-पास सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गयी

0
69

जालौन (ब्यूरो)- नवरात्रि के मौके पर नगर के प्राचीन देवी मंदिर छोटी माता मंदिर, बड़ी माता मंदिर, अलखिया मंदिर, कामांक्षा मंदिर में भक्तों का सैलाब उमड़ा। हजारों भक्तों ने मंदिर में जाकर पूजा अर्चना की एवं मांग का आशीर्वाद लिया। इसके साथ ही एसडीएम व सीओ ने भी मंदिरों के आसपास सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया एवं तैनात पुलिस कर्मियों को हिदायत दी।

बासंतिक नवरात्रि के चैथे दिन माता के चैथे रूप कूष्मांडा की पूजा अर्चना की गई। नगर के प्राचीन छोटी माता मंदिर, बड़ी माता मंदिर, अलखिया मंदिर के अलावा कामांक्षा देवी मंदिर पहाड़पुरा में सुबह से ही देवी भक्तों की भीड़ लगी रही। देवी भक्त महिला, पुरूष, किशोर व किशोरियां हाथों में अक्षत, रोली, चंदन, फूल व प्रसाद लेकर देवी मंदिरों पर पहुंचे। जहां उन्होंने माता की पूजा अर्चना की एवं माथा टेककर माता का आशीर्वाद मांगा। सुबह से ही मंदिरों में ढोल, नगाड़े, घड़ियाल, शंख, झालर व माता के जयकारे की आवाज गुंजायमान हो रही थी। जगह जगह देवी भक्तों ने घट व कलश का स्थपना की। इसके अलावा सैंकड़ों भक्तों ने जवारे बोकर माता की आराधना की।

सुबह से ही माता के मंदिरों में माता के भजन सुनाई देने लगते हैं। जो माहौल को भक्तिमय कर देते हैं। मंदिरों में आरती के बाद प्रसाद वितरण की व्यवस्था भी की जा रही है। तो वहीं, नवरात्रि के पर्व पर मंदिरों में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था न होने की खबरों के बीच एसडीएम एसपी यादव व सीओ एसके शर्मा सहित कोतवाली में तैनात एसएसआई ब्रजनेश यादव आदि ने स्वयं पैदल मार्च कर मंदिरों की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। उन्होंने तैनात पुलिस कर्मियों को मुस्तैदी के साथ डयूटी को अंजाम देने की हिदायत दी। इसके साथ ही उन्होंने देवी भक्तों से मंदिर की सफाई व सुरक्षा व्यवस्था में सहयोग करने की अपील की।

रिपोर्ट- अनुराग श्रीवास्तव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here