प्रतापगढ़: जिलाधिकारी ने किया रानीगंज तहसील का औचक निरीक्षण

0
73

प्रतापगढ़(ब्यूरो)- जिलाधिकारी श्री शरद कुमार सिंह ने आज तहसील रानीगंज का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा तहसील दिवस एवं समाधान दिवस के सम्बन्ध में पूछे जाने पर उपजिलाधिकारी तथा तहसीलदार ने अवगत कराया गया कि तहसील दिवस में प्राप्त प्रार्थना पत्रों का निस्तारण गुणवत्ता पूर्वक हो रहा है। निस्तारण आख्या से शिकायतकर्ता को जांच अधिकारी द्वारा अवगत कराया जाता है कि शिकायतकर्ता की शिकायत का निस्तारण न होने पर जांच अधिकारी लिखित अथवा मोबाईल द्वारा शिकायतकर्ता को अवगत कराया जाता है।

तहसील दिवस से प्राप्त शिकायतों का स्थल पर रेण्डम आधार पर उपस्थित अधिकारी को नोडल अधिकारी नामित कर क्रास वेरीफिकेशन भी कराया जाता है। उपजिलाधिकारी एवं तहसीलदार शिकायतकर्ता के शिकायत निस्तारण के सम्बन्ध में उसकी सन्तुष्टि के लिये पूछतांछ भी की जाती है। थाना समाधान दिवस में लगाये गये अधिकारियों के ड्यिूटी के सम्बन्ध में जब जिलाधिकारी ने जानकारी ली तो बताया गया कि तहसील के उपजिलाधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, राजस्व निरीक्षक तथा लेखपाल की ड्यिूटी लगायी जाती है। थाना समाधान दिवस पर प्राप्त शिकायतों का निस्तारण संयुक्त टीम बनाकर निस्तारण किया जाता है। न्यायालय के आदेशों की अमलदरामद राजस्व अभिलेखों में किया जाता है एवं कम्प्यूटर में फीडिंग के पश्चात् संशोधित खतौनी की नकल कास्तकार को उपलब्ध करायी जाती है।

षडवार्षिक खतौनी के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने जानकारी ली तो बताया गया कि रोस्टर के अनुसार षडवार्षिक खतौनी बना ली गयी है एवं पुरानी खतौनी राजस्व अभिलेखागार में जमा कर दी गयी है। तहसील परिसर में वादकारियो/आम जनता की सुविधा के लिये पूछे जाने पर बताया गया कि मूत्रालय/शौचालय तथा पेयजल की व्यवस्था हेतु पैक्सफेड संस्था द्वारा ईस्टीमेट तैयार कर कार्यवाही की जा रही है। परिसर में 03 हैण्डपम्प चालू है तथा वाटर कूलिंग की व्यवस्था आम जनता के लिये की गयी है। दैवी आपदा के सम्बन्ध में जिलाधिकारी द्वारा पूछे जाने पर तहसीलदार द्वारा बताया गया कि वित्तीय वर्ष 2016-17 में दैवी आपदा मद से सहायता राशि का त्वरित गति से वितरण किया कराया गया है। तहसील परिसर में साफ-सफाई सन्तोषजनक है। उपजिलाधिकारी द्वारा जन सुनवाई प्रातः 9 बजे से 11 बजे तक नियमित रूप से की जा रही है।

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने ग्राम कतरौली का बस्ता अभिलेखागार निकलवाया जिसमें जमा सूची में यह नही दर्शाया गया था कि कितने अभिलेख जमा किये गये है और कितने अभिलेख निकाले गये है। इस पर जिलाधिकारी ने तहसीलदार को कड़ी फटकार लगाते हुये कहा कि जमा करने से पूर्व समस्त अभिलेखों की सूची बनायी जाये और निकालने के उपरान्त यह दर्ज किया जाये कि कौन सा अभिलेख निकाला गया है। निरीक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) श्री सोमदत्त मौर्य तथा तहसीलदार रानीगंज उपस्थित थे।

रिपोर्ट- अवनीश कुमार मिश्रा 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY