सिंचाई विभाग के अधिकारियों और ठेकेदार के मूर्खता पूर्ण कारनामें के कारण कई गांवों के रास्तें हुए बंद


प्रतापगढ़/कुंडा (ब्यूरो) : सिंचाई विभाग के अधिकारियों और ठेकेदार के मूर्खतापूर्ण कारनामें के कारण कई गांवों का बाजारों और मुख्य मार्गों से संपर्क मार्ग टूट गया है। जिससे ग्रामीणों के अलावा अन्य राहगीरों को आवागमन में काफी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। रास्ता एकदम से बाधित हो जाने के कारण आपातकालीन अवस्था में कोई भी चार पहिया वाहन कई गांवों में नहीं जा सकता है।
विकास क्षेत्र बाबागंज के गिस्था, बदगंवा, पुरमई सुल्तानपुर और रायअसकरनपुर, प्रीतमपुर इत्यादि गांवो से गुजरी प्रतापगढ़ जल शाखा का जेसीबी द्वारा सफाई सिंचाई विभाग ठेकेदारों के माध्यम से करवा रहा है।

ठेकेदार नहर की खोदाई करने के बाद सारा मलबा, कूड़ा और सिल्ट जल शाखा के बगल से गुजरी सड़क और रास्ते पर रख दे रहा है और उनको वहां से हटवा नही रहा है। जिससे ग्रामीणों का आवागमन एकदम से बाधित हो गया है। पूर्ण रुप से रास्ता बंद हो जाने से कई गांवों के ग्रामीण लखपेड़ा और आज़ाद नगर बाज़ार से एकदम से कट गए हैं। रास्तों पर बाइक तक नही जा सकती है। ब्लाक मुख्यालय का शार्ट रास्ता होने के कारण कई गांवों के ग्रामीण इस रास्तें का प्रयोग करतें थें लेकिन अब रास्ता( सड़क) बाधित हो जाने के कारण उनको घूमकर ब्लाक जाना पड़ता है। प्रभावित गांवों में चार पहिया वाहन तो दूर बाइक भी नही जा सकती है। सड़कों पर से मलबा कब हटेगा..??? सबसे बड़ा सवाल बना हुआ है..।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here