मुक़दमा पंजीकृत न होने पर पिता ने पुलिस पर आरोपियों को बचाने के जमकर लगाए आरोप

0
56

सफीपुर/उन्नाव(ब्यूरो)- दस दिन पूर्व गाव के ही लोगो द्वारा पुत्र की हत्या कर लाश सड़क किनारे डाल देने की पिता द्वारा दी गई तहरीर के बाद मुक़दमा पंजीकृत न होने पर पिता ने पुलिस पर आरोपियों को बचाने के जमकर आरोप लगाए उसने आरोपियों के साथ पुलिस द्वारा नर्मी बरतने की भी शिकायत की कोतवाली प्रभारी संजय पाण्डेय के अनुसार मामले की जाच की जा रही है जो सत्यता होगी कार्यवाही की जाएगी।

कोतवाली क्षेत्र के ग्राम देवगांव निवासी राजीव गौड़ 27 वर्ष पुत्र दशरथ गौड़ को गत 9 मई शाम 7 बजे गाव निवासी उसका मित्र आशू पुत्र विनोद गौड़ लिवाने आया और राजीव की पत्नी शैलेंद्री के पूछने पर बताया गाव के बाहर बने मौनी बाबा के आश्रम में चल रहे जागरण सुनने जा रहे है।

अधिक समय बीत जाने के बाद शैलेंद्री ने राजीव के मोबाइल पर फोन मिलाया तो काल आशू ने रिसीव कर थोड़ी देर में आने का आश्वासन दिया वही लगभग डेढ़ घंटे बाद शोर उठा की राजीव मरणासन स्थिति में सफीपुर रसूलाबाद मार्ग किनारे खंती में घायल अवस्था में पड़ा है। उसे एम्बुलेंस द्वारा सी एच सी लाया गया फिर रिफर होने पर दो दिन बाद इलाज के दौरान हैलेट में उसकी मृत्यु हो गई।

तब तक मामला मार्ग दुर्घटना से जोड़ ठन्डे बस्ते की ओर जा चुका था इसी बीच मृतक की पत्नी व अन्य गाव वालो से मिली जानकारी पर पिता दशरथ के पैरो से जमीन निकल गई उसके द्वारा कोतवाली पुलिस को दी गई तहरीर के अनुसार उसके मृतक पुत्र राजीव के पित्र आशू और उसका भाई शिवांशू पुत्र गण विनोद गौड़ ने बहाने से उसके पुत्र को बुला कर उसे लोहे की रॉड और पत्थरो से मार कर डाल दिया|

उसके अनुसार दो माह पूर्व आरोपी आशू के पिता विनोद से गेहू के खेत से ट्रैक्टर निकालने को लेकर विवाद हुआ था विनोद ने देख लेने की धमकी दी थी तभी उसके एकलौते पुत्र की हत्या कर दी। पिता ने मुक़दमा पंजीकृत करने की मांग की।

मृतक राजीव की शादी मात्र डेढ़ वर्ष पूर्व 25 फरवरी 2016 को शैलेंद्री के साथ हुआ था 2 फरवरी 2017 को उसके घर एक बच्ची का जन्म हुआ था जबकि आरोपी आशू के विवाह के पाँच वर्ष बाद भी कोई बच्चा नहीं हुआ इन्ही कारणों से इस मामले को गाव वालो ने अपनी चर्चा में तांत्रिक विद्या से भी जोड़ रहे है|

ऐसे मामले में एकलौते पुत्र की बलि दी जाना स्वाभाविक है। घटना के दस दिन दिन बीत जाने के बावहूद कोई कार्यवाही न होने पर पिता ने नाराजगी जताई ।

रिपोर्ट-रामजी गुप्ता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here