आंधी व झमाझम बरसात के चलते योग दिवस के कार्यक्रमों पर फिर पानी

0
98

रायबरेली(ब्यूरो)- कर्ज के बोझ से किसानों के द्वारा की जारी लगातार आत्महत्याओं व बढती बेरोजगारी से खिन्न होकर शायद ईश्वर को भी अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित होने वाला योग कार्यक्रम पसन्द नही आया और ऐन मौके पर उनके द्वारा आंधी व झमा-झंम बरसात कर सारे कार्यक्रम को चैपट कर दिया गया। मजे की बात यह रही कि कार्यक्रम समाप्त होने की समय सीमा के बाद जमकर धूप खिली और मौसम साफ होगा। वैसे प्रशासन द्वारा इस योग कार्यक्रम सफल बनाने के लिए भरपूर व्यवस्था की गई थी।

बछरावां थाना विकास खण्ड, दयानन्द महाविद्याल व गाँधी विद्यालय में बड़े पैमाने पर इन्तजाम किये गये थे परन्तु बरसात के चलते सारी तैयारियां धरी की धरी रह गई लखनऊ में मोदी के कार्यक्रम में सामिल होने को लेकर स्थानीय पुलिस द्वारा 48 घण्टे पूर्व ही भारी वाहनों का आवागमन लखनऊ की ओर बन्द कर दिया गया। नतीजा यह रहा कि बछरावां के अगल-बगल हजारों ट्रक सड़कों के किनारे खड़े होगे। मीलों लगी लंम्बी लाईनों के चालक व परिचालक मोदी सरकार को कोसते नजर आये। लालगंज मार्ग पर स्थिति महाविद्यालय की पड़ी जमीन पर सैकडों वाहन खड़े किये गये थे। जो बरसात होने के कारण फस गये। उन्हें सड़क पर लाने के लिए चालकों को कड़ी मसक्कत करना पड़ा किन्ही किन्ही जगहों पर जहां कुछ बहुत छाया थी। औपचारिक रूप से योग किया गया। सरस्वती शिशु मन्दिर में शशीकान्त मिश्र, हरिओम सिंह, देवेष मिश्रा राजू पाण्डेय, सतीश सिंह, हरिपाण्डेय, सहित राष्ट्रीय स्वयम सेवक संघ के कार्यकर्ताओं ने योग में भाग लिया। दयानन्द पी0जी0काॅलेज, में योग हुआ जरूर परन्तु संख्या बल बहुत कम दिखाई पड़ा।

रिपोर्ट- राजेश यादव 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY