दुर्गा अष्टमी को उमडा आस्था का सैलाब

0
155

जौनपुर (ब्यूरो)- सर्वमंगल मंगल्ये,शिवे सर्वार्थ साधिके।शरण्येतर्यम्ब्के गौरी,नारायणि नमोस्तूते। शक्तिपीठ शीतला चौकिया धाम में नवरात्रि के आठवें दिन माता के महागौरी स्वरुप के दर्शन पूजन के लिये भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा।दुर्गा अष्टमी के दिन माता के महागौरी स्वरुप कि पूजा अर्चना कि जाती है।इनका वर्ण गौर होने के कारण यॆ महागौरी नाम से पुकारी जाती हैं।

मान्यतानूसार इनकी आराधना करने से असम्भव कार्य भी सम्भव हो जाता हैं तथा मनोवाँछित फल कि प्राप्ति होती है।भोर साढ़े चार बजे मंदिर के पुजारी शिवकुमार पण्डा नें माँ के महागौरी स्वरुप कि मंगला आरती करने के पश्चात मंदिर का कपाट भक्तो के दर्शन पूजन के लिये खोल दिया। महागौरी माता कि जय,साँचे दरबार कि जय से समूचा धाम गुञ्जायमान होने लगा।महिलायें आस पास दुकानों में बने चूल्हो चौको पर कडाहि करती रहीं।डलिया में भक्तगण नारियल,गजरा,अढहुल कि माला तथा हलवा औऱ पुरी लेकर माता को चढ़ावा चढाते रहे।क्रमबद्ध होकर श्रद्धालु विधिपूर्वक महागौरी माता का दर्शन पूजन करते रहे।मंदिर पुजारी शिवकुमार पण्डा नें कहा कि जो भक्त नौ दिन का व्रत धारण किये हैं वो आज शाम तक किसी भी समय हवन करवा सकते हैं।

औचित्यहिन साबित हुआ मेटल डिटेक्टर-
नवरात्रि में भक्तों की सुरक्षा के लिये मुख्य गेट पर लगवाये गये दोनो मेटल डिटेक्टर पूरे नवरात्र भर औचित्यहीन ही साबित होते रहे | नवरात्रि भर में चार छः घंटे छोड़ दिया जाय तो मेटल डिटेक्टर हमेशा बँद ही पड़े रहे | दोनों में से एक भी मेटल डिटेक्टर काम नहीं कर रहा था | ऐसे में मंदिर और भक्तों की सुरक्षा प्रशासन के नहीं अपितु मंदिर में बैठी देवी के ही भरोसे रही |

ज्ञात हो कि नवरात्रि में पुलिस प्रशासन द्वारा सुरक्षा के बड़े बड़े दावे किये गये। परंतु चौकीया धाम एक ऐसा पवित्र औऱ शक्तिपीठ धाम हैं जहाँ नवरात्र भर में कई लाख श्रद्धालुओं नें आकर शीश झुकाया ऐसे में मेटल डिटेक्टर का बँद पड़ा रहना पुलिस कि सुरक्षा व्यवस्था में खामी को दर्शाता रहा।जबकि नवरात्र प्रारम्भ होने से एक दिन पूर्व एसपी साहब नें पूरे धाम का निरीक्षण किया था।तथा आवश्यक निर्देश दिये थे।

रिपोर्ट- अमित कुमार पाण्डेय

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here