रायबरेली में होगा डायलिसिस

0
71


रायबरेली ब्यूरो : डायलिसिस सेंटर के लिए सीतापुर और रायबरेली के बीच चल रही प्रतिद्वंदिता सोमवार को खत्म हो गई। शासन से रायबरेली जिला अस्पताल में डायलिसिस सेंटर खोलने की अनुमति मिल गई है। जून माह से दिल के मरीजों को यहीं डायलिसिस की सुविधा मिलने की संभावना है। जिला अस्पताल के प्रथम तल पर पैडियाट्रिक वार्ड के सामने दो सौ स्क्वायर फीट में बना हाल डायलिसिस सेंटर के लिए निर्धारित कर शासन को भेजा गया था। डायलिसिस सेंटर के लिए सीतापुर और रायबरेली के बीच अक्टूबर माह से प्रतिद्वंदिता चल रही थी। सीतापुर में सेंटर के लिए पर्याप्त जगह न होने के चलते रायबरेली में सेंटर खुलने की संभावनाएं ज्यादा थी, और वही हुआ। सोमवार को जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा एनके श्रीवास्तव को शासन से इस आशय का पत्र प्राप्त हो गया। इसमें रायबरेली में ही डायलिसिस सेंटर खोलने की मंजूरी दी गई है। ग्राउंड फ्लोर पर जगह न होने के चलते प्रथम तल पर बने हाल को सेंटर का रूप दिया जाएगा। दिल के मरीज स्ट्रेचर से सेंटर तक ले जाएंगे, इसके लिए रैम्प पहले ही बन चुका है।

जून तक शुरू हो जाएगा सेंटर
दिल्ली की एक कंपनी को सेंटर स्थापित करने का काम मिला है। सेंटर में आधुनिक उपकरण व एयर कंडीशनर लगाए जाने हैं। शुरुआत में सेंटर में पांच बेड होंगे, बाद में इनकी संख्या बढ़ाकर दस तक की जाएगी। एक सप्ताह के भीतर काम शुरू होने की संभावना है। शासन की मंशा के अनुरूप काम हुआ तो जून माह से डायलिसिस के लिए मरीजों को बड़े शहरों तक दौड़ लगाने से छुटकारा मिल जाएगा।

बहरेपन की होगी जांच
जिला अस्पताल में बहरेपन की जांच अस्पताल के कमरा नंबर 24 को आडियोमेट्री रूम बनाया गया है। ये कमरा पूरी तरह साउंड प्रूफ है। यहां बहरेपन की जांच की जाएगी। इसके लिए आडियो मीटर भी लग गया है और आडियो मेट्रिस्ट असिस्टेंट रूबी चौधरी को भी तैनात कर दिया गया है। इसी सप्ताह बहरेपन की जांच का लाभ भी मरीज ले सकेंगे। जांच रिपोर्ट नाक, कान व गला रोग विशेषज्ञ डा शिव कुमार देखेंगे और मरीज को चिकित्सीय परामर्श देंगे।

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक बोले
जिला अस्पताल में मरीजों को बेहतर सेवाएं देने का प्रयास किया जा रहा है। डायलिसिस सेंटर के लिए भी कई महीनों से पत्राचार किया जा रहा था, परिणाम सामने है। आगे और भी उपचार की आधुनिक तकनीकियां रायबरेली जिला अस्पताल लाने का प्रयास किया जाएगा।

रिपोर्ट – शिवा मौर्य

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here