स्वच्छता अभियान को लेकर योगी सरकार में शिक्षा विभाग उङा रहा धज्जियां  

0
63

चकलवंशी/उन्नाव(ब्यूरो)- जहां योगी सरकार एक तरफ स्वच्छता अभियान को लेकर पूरे प्रदेश में  प्रयास कर रही है दूसरी तरफ जनपद के आलाधिकारी व नेता सफाई के नाम पर झाङू पकड़कर ढोंग कर रहे हैं|

विकास खंड मियांगंज के विद्यालयों का हाल देखकर दंग रह जायेंगे। जो स्मार्ट ब्लाक के नाम से जाना जाता है जब विकास खंड के पास के विद्यालय का यह हाल है, अब पूरे क्षेत्रों की क्या हालत होगी जहां योगी सरकार एक तरफ स्वच्छता अभियान को लेकर पूरे प्रदेश में भरपूर प्रयास किया जा रहा है, दूसरी तरफ जनपद के आलाधिकारी व विधायक झाङू पकङ कर फोटो खिंचवाने का ढोंग कर रहे हैं|

एक ब्लाक के बारे में आप लोगों को जानकारी होगी नाम सुना होगा स्मार्ट ब्लाक मियांगंज से लगभग 100 मीटर की दूरी पर प्राथमिक विद्यालय प्रथम के गेट पर रोजाना कूङे का ढेर लगा दिया जाता है, इस ओर अधिकारी व नेताओं की नजर नहीं पङ रही है, जबकि विद्यालय में नौनिहाल छात्र-छात्रा विद्या ग्रहण करने आते है|

यह हाल है विद्यालयों का तो नौनिहाल बच्चों पर क्या प्रभाव पड़ेगा इसका अंदाजा लगाया जा सकता है, जहां पर इस समय तैनात खंड विकास अधिकारी सुषमा देवी है, जिनका सुबह शाम निकलती है फिर भी नजर नहीं पङ रही है सफाई के नाम पर अभी ज्यादा समय नहीं हुआ है, कुछ चंद दिनों पहले तैनात खंड विकास अधिकारी सुशील कुमार ने अधिकार व कर्मचारियों को स्वच्छता अभियान को लेकर शपथ दिलाई गई थी| उसके बाद भी ब्लाक के पास विद्यालय के गेट पर कूङे का ढेर देख कर आप दंग रह जायेंगे।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी के आदेशों की अधिकारी व विधायक खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं विद्यालयों में गंदगी देखकर आपके रोयें खड़े हो जायेंगे विद्यालयों में आपको नजारा  देखने को मिलेगा जब ब्लाक के पास का यह हाल है तो क्षेत्र के विद्यालयों का हाल इससे बुरे हालात होगें। सिर्फ आलाधिकारी झाङू पकड़कर फोटो खिंचवा ली और हो गयी सफाई के नाम पर कुछ दिन पहले एक गांव में सफीपुर दिवाकर ने भी फोटो खिंचवा कर औपचारिकता पूरी कर ली है| जिससे योगी तक संदेश पहुंचे कि हमारा विधायक अच्छा कार्य करने लगा हुआ है सिर्फ सफाई को लेकर आलाधिकारी व नेता ढोंग कर रहे हैं।

ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यालयों में जाकर देखा गया तो वहां भी कूङे के ढेर देखने को मिलेंगे। इसी लिए क्षेत्रों में बीमारियां पनप रही है पूरे क्षेत्रों के अभिवावक अपने बच्चों को पढ़ाने के लिए विद्यालय भेजते है वहां लोगों ने देखा कि यह हाल जब विद्यालयों का है यदि क्षेत्रों के विद्यालयों का है तो इसमें बुराई की कोई बात नहीं है। शौचालयों में गंदगी देखकर दंग रह जायेंगे किस तरह बङी-बङी झाङू पकड़कर फोटो खिंचवाने का ढोंग करते हैं यह आपको जनपद में देखने को मिलेगा लोगों ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाई है इस संबंध में ऐसे अधिकारियों पर कार्यवाही होनी चाहिए।

रिपोर्ट-जीतेन्द्र गौड़

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY