एक अपराधी का ऐसा खौफ की पूरा का पूरा गाँव छोड़कर चला गया

0
55

मैनपुरी (ब्यूरो)- यूपी के मैनपुरी में एक अपराधी का ख़ौफ इस कदर ब्याप्त है कि दहसत के चलते पूरा परिवार गाँव से पलायन कर गया। और छोड़ गया है पुलिस पर कई सवालिया निशान। क्या योगी सरकार का यही है भय मुक्त समाज ।

मैनपुरी में अपराध जोरों पर है –
अपराधियो के हौसले बुलंद है, और उन्हें पुलिस का कोई ख़ौफ नही रहा। इसकी बानगी उस समये देखने को मिली जब मैनपुरी के थाना बेवर के ग्राम रवारेमऊ में एक हिस्ट्रीशीटर अपराधी से भयभीत परिवार की पुलिस ने एक न सुनी तो मजबूर होकर परिवार गांव से पलायन कर गया। पीड़ित परिवार पुलिस अधीक्षक के पास गया तो पुलिस अधीक्षक की गैर मौजूदगी में वहां मौजूद पुलिस कर्मियों ने मदत करने की बजाय उन्हें उल्टा डांटकर भगा दिया।

थाने पर उसकी तहरीर तो लेली गयी पर कार्यवाही के नाम पर कुछ नही किया। पीड़ित परिवार में हिस्ट्रीशीटर अपराधी का इतना ख़ौफ़ था कि वह वापस अपने छेत्रीय थाने जाने की हिम्मत न जुटा सके और अपने परिवार के 16 सदस्यों के साथ गांव छोड़कर पलायन कर गए।

प्राप्त जानकारी के आधार बताया जा रहा है कि पूरा मामला मैनपुरी के थाना बेवर के ग्राम रवारेमऊ का है, पीड़ित परिवार का आरोप था की गांव का ही निवासी भूरे सिंह नामी ग्रामी बदमाश है, उसपर कई मामले पंजीकृत है, 5 माह पूर्व उनके पिता की हत्या का आरोप भी भूरे सिंह पर ही था। परंतु भूरे सिंह के खौफ और रसूक की वजह से नामजद रिपोर्ट दर्ज नही कराई थी, पर भूरे सिंह फिर से पीड़ित परिवार पर खेत और घर छोड़कर भाग जाने का दवाब बना रहा है ऐसा न करने पर परिवार के अन्य सदस्यों को भी जान से मार देने की धमकी दे रहा है, गांव में भूरे सिंह का इतना ख़ौफ़ है कि गांव का कोई भी ब्यक्ति उसके खिलाफ बोलने की हिमाकत नही कर पाता, यही बजह हे कि पीड़ित परिवार ट्रेक्टरों में अपने घर का सामन, व् जानवरो को लेकर गाँव छोड़ कर चले गए।

इस पूरे मामले पर जब थाना अध्यक्ष से बात की गयी तो उनका कहना था कि अभी तक हमारे पास कोई तहरीर नही आई है। यदि आएगी तो हम जरूर कार्यवाही करेगे। अब सवाल यह उठता है कि जो परिवार पुलिस कप्तान के पास तक गुहार लगा चुका है, पलायन कर चुका है, बदमाश का इतना ख़ौफ ब्याप्त है और थाना पुलिस के कान पर जू भी नही रेंग रही।

रिपोर्ट- प्रमोद झा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY