एक और दो के सिक्के लेने से हो रहा सीधे इनकार

0
126

वाराणसी (ब्यूरो)- बड़ागांव वाराणसी नोट बन्दी के बाद से व्यापारी भी मनमानी पर उतारू हो गया है एक बार तो दस के सिक्के पर अफवाह फैला कर पूरी तरह से मनमानी पर उतारू होकर बिना ₹ लिखे सिक्के को बिना किसी सरकारी आदेश के प्रचलन के बाहर करते हुए रद्दी की टोकरी में डलवा दिया इतने समय बीत गये सरकारी मशीनरी इस पर काबू नहीं पा सकी ।

व्यापारियों ने अब अपनी सुविधा मात्र के लिये मनमाना रवैया अख्तियार करते हुए एक और दो के सिक्कों के लेने से इनकार करना शुरू कर दिया है।  कोई भी दुकानदार एक और दो का सिक्का लेने को तैयार नहीं है जिससे छोटे दुकानदारों से लेकर आम आदमी के लिये एक बड़ी मुसीबत खड़ी हो गई है।

छोटे व मध्यमवर्गीय व्यापारियों का कहना है की इन सिक्कों को न तो कोई बैंक ले रही है न ही बड़े व्यापारी ऐसे में इन सिक्कों का क्या किया जाय। वही जब दुकानदारों से इस संबंध में जानकारी लिया तो उन्होंने बताया कि ग्राहक ये सिक्के नही लेते है तो हम लेकर क्या करेंगे। सिक्कों को लेकर समाज के सामने खड़ी इस समस्या से पार पाने के लिये जिम्मेदार सरकारी तंत्र व बैंक को आगे आना चाहिये जिससे इस बढ़ती समस्सया से लोगों को निजात मिल सके।

रिपोर्ट- घनश्याम गुप्ता

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY