इंसेफेलाइटिस के मरीजों मे होगी पीलिया की पहचान

0
134

गोरखपुर(ब्यूरो)– इंसेफेलाइटिस की एक बजह पीलिया भी है आप को यह जान कर हैरानी होगी लेकिन यह सच है पश्चिम बंगाल के इंसेफेलाइटिस मरीजो मे पीलिया के लक्षण मिले है यह बीमारी लैप्टोस्पाइरा बैक्टिरियां से होती है इसको देखते हुए बीआरडी मेडिकल कालेज के डाक्टरो ने इस बैर्टिरिया पर शोध करने का फैसला किया है बीआरडी के प्रस्ताव को शासन ने हरि झंडी दे दी है|

इंसेफेलाइटिस को पूर्वांचल मे मौत की बीमारी के नाम से जाना जाता है गोरखपुर और बस्ती मण्डल समेत पूर्वी यूपी के २४ जिलो मे इस बीमारी के कारण हर साल सैकड़ो मासूम बिंकलांग हो रहे है प्रति बर्ष पांच सौ से अधिक मौत हो रही है बीमारी के कारणो की तलाश मे जुटे डाक्टर अब लैप्टोस्पाइरा बैक्टिरिया को भी इस बीमारी की एक बजह मान रहे है इसको लेकर बीआरडी बाल रोग मेडिसीन विभाग की टीम शोध करने जा रही है|

बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर के डा.अमरेश सिंह विभागाध्यक्ष ने बताया कि पश्चिम बंगाल और पूर्वाचल की भौगोलिक स्थिति मे काफी समानता है यह धान की खेती का क्षेत्र है खेतो मे चूहे होते है बरसात के मौसम मे खेतों मे पानी जमा हो जाता है यही बजह है कि वैक्टीरिया के प्रभाव की पड़ताल के लिए शोध किया जायेगा इस शोध मे बाल रोग विभाग मे छह साल से अधिक उम्र के मरीज व मेडीसीन विभाग मे भर्ती व्यस्को के खून की जांच की जायेगी|

रिपोर्ट-जयप्रकाश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here