इंजीनियरी सेवा परीक्षा, 2015

0
250

upsc

संघ लोक सेवा आयोग द्वारा जून, 2015 में आयोजित इंजीनियरी सेवा परीक्षा, 2015 के लिखित भाग के परिणाम के आधार पर, निम्‍नलिखित अनुक्रमांक वाले उम्‍मीदवारों ने साक्षात्‍कार/व्‍यक्तित्‍व परीक्षण के लिए अर्हता प्राप्‍त कर ली है:

इन सभी उम्‍मीदवारों की उम्‍मीदवारी इनके हर प्रकार से पात्र पाए जाने के अध्‍यधीन http://vallamai.amachu.in/library/mebel-3ya-ofitsialniy-sayt-katalog.html мебель 3я официальный сайт каталог अनंतिम है। उम्‍मीदवारों को अपनी आयु, शैक्षिक योग्‍यता, समुदाय, शारीरिक अक्षमता (जहां लागू हो) आदि के अपने दावे के समर्थन में व्‍यक्तित्व परीक्षण के समय मूल प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने होंगे। अत:, उन्‍हें व्‍यक्तित्‍व परीक्षण बोर्डों के समक्ष उपस्थित होने से पूर्व आयोग की वेबसाइट पर उपलब्‍ध महत्‍वपूर्ण अनुदेशों के अनुसार अपने प्रमाण पत्र तैयार रखने और प्रमाण पत्रों की आवश्‍यकता की पहले ही जांच कर लेने की सलाह दी जाती है।

परीक्षा की नियमावली के अनुसार, इन सभी उम्‍मीदवारों से अपेक्षा की जाती है कि वे आयोग की वेबसाइट http://www.upsc.gov.in पर उपलब्‍ध विस्‍तृत आवेदन प्रपत्र (डीएएफ) को भर लें और उसे ऑनलाइन जमा कर दें। डीएएफ आयोग की वेबसाइट पर 01.10.2015 से 13.10.2015 तक रात्रि 11.59 बजे तक उपलब्‍ध रहेगा। डीएएफ को भरने और उसे आयोग में ऑनलाइन जमा करने संबंधी महत्‍वपूर्ण अनुदेश भी वेबसाइट पर उपलब्‍ध हैं। सफल घोषित किए गए उम्‍मीदवारों को ऑनलाइन विस्‍तृत आवेदन प्रपत्र भरने से पहले वेबसाइट के संगत पृष्‍ठ पर अपने को रजिस्‍टर करना होगा। अर्हक उम्‍मीदवारों को दिनांक 14 मार्च, 2015 के भारत के राजपत्र में प्रकाशित इंजीनियरी सेवा परीक्षा, 2015 की नियमावली का अवलोकन करने का भी परामर्श दिया जाता है, जो कि आयोग की वेबसाइट पर भी उपलब्‍ध है।

 

http://www.akhandbharatnews.com/owner/gde-knopka-tab.html где кнопка tab विस्‍तृत आवेदन प्रपत्र विधिवत भरकर ऑनलाइन जमा करने के बाद образец возраженияна приказ мирового судьи , печь бренеран инструкция по эксплуатации उम्‍मीदवारों से अपेक्षा की जाती है कि वे अंतिम रूप से प्रस्‍तुत डीएएफ का अलग से एक प्रिंटआउट निकाल लें और डीएएफ की उस मुद्रित प्रति पर प्रत्‍येक पृष्‍ठ पर नीचे विधिवत हस्‍ताक्षर (उम्‍मीदवार द्वारा) करके अपनी आयु itunes как сделать резервную копию на компьютер , как оплачивать коммунальные услуги в коммунальной квартире शैक्षिक योग्‍यता короткие пожелания школе , после бритья волосы растут быстрее समुदाय और शारीरिक अक्षमता (जहां लागू हो) के अपने दावे के समर्थन में प्रमाण पत्रों की स्‍व-अनुप्रमाणित फोटोकापी के साथ विधिवत हस्‍ताक्षरित घोषणा पत्र सहित अवर सचिव (इंजीनियरी) кристаллический состав вещества , संघ लोक सेवा आयोग, धौलपुर हाउस, शाहजहां रोड, नई दिल्‍ली-110069 को भेज दें जिससे कि यह आयोग कार्यालय में दिनांक 19.10.2015 तक अवश्‍य पहुंच जाए। ऑनलाइन जमा किए गए विस्‍तृत आवेदन प्रपत्र की मुद्रित प्रति वाले लि‍फाफे पर “इंजीनियरी सेवा परीक्षा, 2015 हेतु विस्‍तृत आवेदन प्रपत्र” लिखा होना चाहिए। इसे संघ लोक सेवा आयोग में दस्‍ती रूप से भी 19.10.2015 (सायं 5 बजे) तक जमा कराया जा सकता है। विस्‍तृत आवेदन प्रपत्र की स्‍याही से हस्‍ता‍क्षरित प्रति के प्राप्‍त नहीं होने की स्थिति में बिना आगे कोई नोटिस दिए उम्‍मीदवारी निरस्‍त कर दी जाएगी।

 

उम्‍मीदवारों से यह भी अपेक्षा की जाती है कि वे साक्षात्‍कार के समय मूल दस्‍तावेज और प्रत्‍येक की फोटोप्रति के साथ-साथ विस्‍तृत आवेदन प्रपत्र की विधिवत हस्‍ताक्षरित (उम्‍मीदवार द्वारा) मुद्रित प्रति साथ लाएं। साक्षात्‍कार के समय प्रस्‍तुत किए जाने वाले प्रमाण पत्रों के संदर्भ में इंजीनियरी सेवा परीक्षा नियमावली, 2015 के साथ-साथ वेबसाइट पर उपलब्‍ध विस्‍तृत आवेदन प्रपत्र भरने से संबंधित अनुदेशों को ध्‍यानपूर्वक पढ़ लिया जाए। उम्‍मीदवार अपनी आयु, जन्‍म-तिथि, शैक्षिक योग्‍यता, जाति (अ.ज./अ.ज.जा./‍अ.पि.व.) तथा (शारीरिक रूप से अक्षम व्‍यक्तियों के मामले में) शारीरिक विकलांगता की स्थिति के समर्थन में पर्याप्‍त प्रमाण पत्र प्रस्‍तुत नहीं कर पाने के लिए स्‍वयं उत्‍तरदायी होगा। यदि लिखित परीक्षा का अर्हक कोई उम्‍मीदवार इंजीनियरी सेवा परीक्षा, 2015 के लिए अपनी उम्‍मीदवारी के समर्थन में कोई अथवा सभी अपेक्षित मूल दस्‍तावेज नहीं प्रस्‍तुत करता है तो उसे व्‍यक्तित्‍व परीक्षण बोर्ड के समक्ष उपस्थित होने की अनुमति नहीं दी जाएगी और कोई यात्रा भत्‍ता नहीं दिया जाएगा।

 

व्‍यक्तित्‍व परीक्षण के लिए अर्हता प्राप्‍त उम्‍मीदवारों के साक्षात्‍कार नवम्‍बर, 2015 से दिसम्‍बर, 2015 माह में आयोजित किए जाने की उम्‍मीद है। तथापि, साक्षात्‍कार की सही तारीख की सूचना उम्‍मीदवारों को ई-सम्‍मन पत्र द्वारा दी जाएगी। अनुक्रमांक-वार साक्षात्‍कार का कार्यक्रम भी आयोग की वेबसाइट पर उपलब्‍ध करा दिया जाएगा।  उम्मीदवारों को इस संबंध में अद्यतन के लिए आयोग की वेबसाइट देखने के लिए अनुरोध किया जाता है।

 

उम्‍मीदवारों को व्‍यक्तित्‍व परीक्षण हेतु सूचित की गई तारीख और समय में परिवर्तन करने संबंधी अनुरोध पर किसी भी स्थिति में विचार नहीं किया जाएगा।

 

जिन उम्मीदवारों ने इस परीक्षा में अर्हता प्राप्त नहीं की है उनके अंक-पत्र, अंतिम परिणाम के प्रकाशन के 15 दिन के अंदर (व्यक्तित्व परीक्षण के आयोजन के बाद) आयोग की वेबसाइट पर प्रस्तुत कर दिए जाएंगे और ये अंक पत्र, वेबसाइट पर 60 दिनों की अवधि के लिए उपलब्ध रहेंगे।

 

उम्मीदवार अपना अनुक्रमांक और जन्म की तारीख अंकित करने के बाद अंक-पत्र प्राप्त कर सकते हैं। तथापि, संघ लोक सेवा आयोग द्वारा उम्मीदवारों को अंक-पत्र की मुद्रित प्रतियां, उम्मीदवारों से डाक टिकट लगे स्व-पता लिखे लिफाफे सहित उनके द्वारा विशेष अनुरोध प्राप्त होने पर ही भेजी जाएंगी। अंक-पत्रों की मुद्रित प्रतियां प्राप्त करने के इच्छुक उम्मीदवारों को ऐसा अनुरोध आयोग की वेबसाइट पर अंक-पत्रों के प्रदर्शित किए जाने के तीस दिन के अंदर करना चाहिए, इसके बाद ऐसे किसी अनुरोध पर विचार नहीं किया जाएगा।

परिणाम, संघ लोक सेवा आयोग की वेबसाइट http://www.upsc.gov.in पर भी उपलब्ध रहेगा।

संघ लोक सेवा आयोग के परिसर में एक सुविधा काउंटर स्थित है। उम्मीदवार अपनी परीक्षा/परिणाम से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी/स्पष्‍टीकरण इस काउंटर से कार्य दिवसों में प्रात: 10.00 से सायं 5.00 बजे के बीच व्यक्तिगत रूप से अथवा दूरभाष सं. 23388088, (011)-23385271/23381125/23098543 पर प्राप्त कर सकते हैं।

ऑनलाइन विस्‍तृत आवेदन प्रपत्र भरने के दौरान किसी प्रकार की कठिनाई आने की स्थिति में उम्‍मीदवार, दूरभाष सं. 23388088/23381125 एक्‍स्‍टे. 4331/4340 पर कार्य दिवसों में प्रात: 10.00 बजे से सायं 5.00 बजे के बीच संपर्क कर सकते हैं।

Source – PIB

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY