शिव मंदिर में लक्ष्मी नारायण मूर्ति की स्थापना और भंडारे का आयोजन सम्पन्न

0
58

रायबरेली(ब्यूरो)- दीन शाह गौरा विकासखंड की थुलरई ग्राम पंचायत में शिव मंदिर में लक्ष्मी नारायण मूर्ति की स्थापना की गयी और दूसरे दिन विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। पूर्वजों द्वारा निर्मित सैकड़ों वर्ष पुराने शिव मंदिर में टूटी पड़ी लक्ष्मी नारायण की प्रतिमा जो काफी पहले से खंडित थी। उसे गंगा में विसर्जित कर उसके स्थान पर बनारस से लायी गयी नव निर्मित मूर्ति की स्थापना की गयी।

गौरतलब हो कि थुलरई स्थित मिश्र परिवार के इस मंदिर को सैकड़ों वर्ष पहले बंगाल में रहने वाली बोड़ो अम्मा नाम से प्रसिद्ध महिला ने करवाया था। जिसमें पूरा परिवार व गांव पूजा अर्चना करता था। यह मूर्ति काफी पहले विखंडित हो गयी थी। जिसे सोमवार को स्थापित किया गया। स्थापना में समस्त परिवार व ग्रामीणों ने पूरी सहभागिता की। विधि विधान से आचार्यो ने वेदी निर्माण के साथ मूर्ति को गंगाघाट ले जाकर स्नान करवाया गया। तत्पश्चात मंत्र व उच्चारण विधि से पूजन किया गया और मूर्ति को जलवास, अन्नवास, पुष्पवास व शयनादि करवाकर शोभायात्रा निकाली गयी जो गांव से शुरू होकर गौरा खस्परी के शिव मंदिर गांव के चार शिव मंदिरों से होकर पुनः अपने स्थान पर पहंची। उसके बाद पैर पूजन की विधि सम्पन्न हुई फिर मूर्ति स्थापित कर दी गयी। दूसरे दिन विधिवत भण्डारे का आयोजन किया गया जिसमे हजारो ग्रामीणो ने प्रसाद ग्रहण किया। इस अवसर पर राधेश्याम मिश्र, दुर्गा प्रसाद मिश्र, दुर्गेश कुमार मिश्र, राजेंद्र मिश्र, दिनेश मिश्र, विवेक मिश्र, कमलेश मिश्र, हरिकेश सिंह, आशीष सिंह, विनय गुप्ता, हरिबाबू गुप्ता आदि उपस्थित रहे।

रिपोर्ट- राजेश यादव 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY