इटावा पुलिस ने गिरफ्तार किया एक शातिर अपराधी: देखें विडियो

0
184
representative

इटावा(ब्यूरो)– इटावा क्राइम ब्रांच टीम व थाना फ्रेंड्स कॉलोनी पुलिस ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए उड़ीसा प्रान्त के शातिर अपराधी सीताराम दास को गिरफ्तार किया है। उसके पास से चोरी के 6.50 लाख कीमत के सोने के जेवरात भी पुलिस ने बरामद किये है। पकड़ा गया शातिर अपराधी उडीसा प्रान्त के जाजपुर जनपद के कोरआई इलाके का रहने वाला है। इस शातिर अपराधी ने गत 9 फरवरी को शहर के भर्थना चौराहे से 1 ज्वेलर्स के स्कूटर की डिग्गी में रखे यह सोने के जेवरात डिग्गी का ताला तोड़कर चुरा ले गया था । ये चोरी करने के बाद शातिर अपराधी इटावा से अपने प्रान्त उडीसा फरार हो गया था ।

पुलिस ने दिन दहाड़े घटी इस चोरी की वारदात को काफी गंभीरता से लिया और सीसीटीवी फुटेज और सर्विल्लान्स की मदद से इस शातिर चोर को उसी के प्रान्त उडीसा में जाकर गिरफ्तार कर लिया ह। पूँछ तांछ में इस शातिर चोर ने बताया कि वह उडीसा से यू पी के इटावा शहर में चोरी की वारदात को इसलिए अंजाम देने आया था । ताकि वो कभी पकड़ा न जा सके । उसने पुलिस को ये भी बताया कि इस लाखो की चोरी की घटना को अंजाम देने में उसके 3 साथियों ने भी मदद की है। उडीसा के इस शातिर चोर के फरार 3 साथियो की पुलिस तलाश कर रही है। वही इटावा के एसएसपी शिवहरि मीणा ने बताया अभियुक्त से कड़ाई से पुछ-ताछ की गई तो उसके द्वारा बतायागया कि हम लोग नगदी व सोना चुराने के पेशेवर अपराधी है । हमारे गांव पुर्वा कोट के अधिकाँश लोग हजारो किलोमीटर दुर जाकर इसी तरह की अपराध करते है और अपराध करके अपने राज्यमें भाग जाते है ।

ऐसे देते थे घटना को अंजाम– इटावा की इस घटना के बारे में बताया कि मेरे तीन साथी रोविनदास, कृष्णराव तथा ओमराव दो पल्सर मोटर साइकिलों से सड़क मार्ग द्वारा जाजपुर से चले थे और रुकते-रुकते 5 फरवरी को इटावा में दाखिल हुए । एक रात्रि में इटावा के धर्मशाला में रुके । 6 फरवरी को घूमते-घुमाते पक्का बाग के पास कृष्णा कालोनी में एक किराए के मकान का कमरा लिया और यह बताया कि हम लोग कपड़े के व्यापारी है । शनिवार को यहलोग इटावा शहर में घुमे और रैकिंग करते हुए भर्थना चैराहे पर पहुंच गए । एक सुनार की दुकान को चुन लिया । पुर्व की घटनाओं की तरह हम लोगों ने पार्लेजी बिस्कुट पानी में भिगो कर इस तरह से डाल दिया कि मालूम पड़े लैट्रिगं पड़ी हो । दुकान दार अपनी दुकान पर आया और इधर-उधर गया । हमारे एक साथी ने स्कूटर की डिग्गी का लॉक तोड़कर सारा जेबर निकाल लिया,और रात्रि में इटावा अपने कमरे में रुके । सुबह होते ही बिना बताए उड़ीसा चले गए ।

रिपोर्ट- सुशील कुमार

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here