अपराधियों की अभी तरफदारी कर रहे पूर्व मुख्यमंत्री

0
38

औरैया/दिबियापुर ब्यूरो- पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी की सरकार में कानून व्यवस्था पर हमेशा सवालों के घेरे में रही है।सत्ता जाने के बाद भी समाजवादी पार्टी के मुखिया अपराधियो की मदद में प्रेस कांफेंस कर दबाब बनाने की कोशिश कर रहे है। जिस तरह सपा मुखिया अखिलेश यादव ने हिस्ट्री शीटर सुधीर यादव को प्रेस के सामने पेश किया वह सपा पर एक बार फिर प्रश्न चिह्न खड़ा कर रहा है।

सुधीर यादव पर सपा सरकार में ही औरैया के दिबियापुर थाने में रंगदारी ,बलबा और सरकारी कार्य मे बाधा डालने के आधा दर्जन से अधिक मुकदमे पंजीकृत हुए थे जबकि फफूंद थाने में अपहरण, रंगदारी, विदेशी करेंसी और मादक पदार्थ  के मुकदमे पंजीकृत हुए थे। अभी हाल में ही एक महिला की असलहा के दम पर बलात्कार करने का मुकदमा पंजीकृत किया गया है।जिसकी जांच औरैया पुलिस कर रही है, लेकिन सपा मुखिया जिस तरह लखनऊ में बैठकर प्रेस के सामने एक अपराधी के तरफ दारी कर रहे है उससे एक बात  साफ है कि अपराधियों को संरक्षण देने की आदत में अब भी सुधार नहीं हुआ।

सपा के मुखिया ने जल्दबाजी में की गई कल्लू यादव के समर्थन में प्रेस कांफ्रेंस में एक बात तो जग जाहिर हो गई की कानून पर कोई विश्वास नही रहा जबकि प्रदेश सरकार हमेशा से स्वच्छ प्रशासन देने का वादा कर हर किसी भी अपराधी को लगातार जेल भेजने का कार्य कर रही है।ऐसे में अपराधी के पक्ष में बात कर सपा मुखिया राजनैतिक दबाब बनाने की कोशिश कर रहे है।ये कानून के साथ खिलबाड़ के साथ साथ जनता को गुमराह करने की भी कोशिश है।इससे सैफ़ई परिवार के समाजवादी विचार धारा पर प्रश्न चिह्न खड़ा कर दिया है।

रिपोर्ट – गोपाल मिश्रा 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY