दलित ग्रामप्रधान को पूर्व ग्राम प्रधान के पुत्रों ने पीटा

0
98
बम (फोटो क्रेडिट-अमर उजाला)

पुरवा (उन्नाव) – दलित ग्राम प्रधान को भूत पूर्व ग्राम प्रधान के दबंग पुत्रो ने पीटा घटना से इलाकाई ग्राम प्रधानों में रोष व्याप्त है वही पीड़ित दलित प्रधान ने घटना की बाबत लिखित शिकायती पत्र कोतवाली प्रभारी को सौंप कर रिपोर्ट लिखे जाने की फरियाद की है|

प्राप्त विवरण के अनुसार मामला कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सभा बहरौरा बुजुर्ग का है जहां सन् 2010 से अब तक मौजूदा ग्राम प्रधान हंसराज वर्मा जो अनुसूचित जाति पासी है ग्राम प्रधान के अनुसार 22 फरवरी को प्रधान अपनी सुनारी की दुकान जो भारतीय ज्योलिस के नाम से पुरवा सोहरामऊ मार्ग पर नगर के मिर्री चैराहे पर बैठे थे तभी समय शाम लगभग 5 बजे बीरेन्द्र कुमार पुत्र भिखारीलाल बढ़ई निवासी ग्राम जाफरखेड़ा मजरे बहरौरा आये और कहने लगे कि गांव विद्युतीकरण हेतु बिजली के पोल गाड़े जा रहे है आप मौके पर चलकर बिजली के खम्भो को एक साईड से गड़वा दे चलकर भूतपूर्व प्रधान पुत्र बीरेन्द्र के अनुरोध पर दलित ग्राम प्रधान मौके पर गया और किसी को भी आपत्ति न हो यह देखकर एक साइड पोल गाड़े जाने के लिये कह दिया तभी वहां मौके पर मौजूद राजेन्द्र व राजेश पुत्रगण भिखारीलाल बढ़ई ने दलित प्रधान को जाति सूचक शब्दो से गन्दी-गन्दी गालियां देने गालिया देने से मना करना क्या हुआ उपरोक्त लोगो ने दलित प्रधान को पीटना शुरू कर दिया। प्रधान के अनुसार मुझे बुलाकर ले जाने वाला बीरेन्द्र भी अपने भाईयो का पक्ष लेते हुए प्रधान को ही आंखे दिखाते हुए गालियां देकर अपमानित किया। तभी शोर शराबा सुनकर ग्राम जाफरखेड़ा के सज्जनलाल, रज्जनलाल पुत्रगण रामनाथ, इन्द्रराज पुत्र रामपाल बढ़ई, बच्चनलाल पुत्र रामनाथ आदि गांव के तमाम लोगों ने बीच बचाव कर प्रधान की जान बचाई वही प्रधान का कहना है कि मैं एक पढ़ा लिखा दलित समाज का हूं तथा अपनी ग्राम सभा का सम्मानित ग्राम प्रधान हूं। उक्त घटना से मेरी सार्वजनिक मानहानि हुई है तथा सामाजिक प्रतिष्ठा को ठेस पहुंची है उक्त घटना से ग्राम सभा के लोगों मे आरोपी युवको के प्रति आक्रोष देखा गया वही इलाकाई ग्राम प्रधानो ने घटना की निन्दा की साथ ही मामला प्रधान संघ के माध्यम से जिलाधिकारी आदिति सिंह व पुलिस अधीक्षक नेहा पाण्डेय से मिलकर कार्यवाही कराये जाने का मन बनाया है समाचार लिखे जाने तक कोतवाली पुलिस ने कोई कार्यवाही नही की शिवरात्रि का पर्व कहकर फिलहाल टरकाउ मिच्चर देकर चलता कर दिया है।

रिपोर्ट – मोहम्मद अहमद

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here