खुलासा- मुंबई के 26/11 हमलों में था ISI का हाथ, पाकिस्तान में ही बनी थी पूरी प्लानिंग – ISI प्रमुख

0
641

दिल्ली- 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमले में ISI का ही हाथ था इस बात का खुलासा अब हो गया है और इस बात का खुलासा खुद उस समय अमेरिका में पाकिस्तान के पूर्व राजदूत हुसैन हक्कानी ने किया है | हक्कानी ने अपनी किताब इंडिया वर्सेज पाकिस्तान व्हाई कांट जस्ट बी फ्रेंड में दावा किया है कि तत्कालीन ISI चीफ जनरल शुजा पाशा ने वर्ष 2008 में अपनी 2 दिन की यात्रा (24-25 दिसंबर) के दौरान इस बात का खुलासा किया था कि मुंबई हमलों में पाकिस्तान के और ISI के लोग शामिल थे हालाँकि उन्होंने यह भी कहा था कि ये ऑपेरशन हालाँकि उनका नहीं है |

हक्कानी ने अपनी किताब में कहा है कि जनरल पाशा जब 2008 में अपनी दो दिन की यात्रा पर अमेरिका आये थे तब उन्होंने सीआईए चीफ जनरल मिशेल हेडेन से मुलाकात की थी और इसी दौरान उन्होंने इस बात का खुलासा किया था | उन्होंने कहा है कि पाशा ने सीआईए चीफ के सामने इस बात को स्वीकार किया था कि 26/11 मुंबई हमलों की प्लानिंग से लेकर सभी चीजों में ISI के लोग शामिल थे लेकिन यह ऑपरेशन उनका नहीं था |

अगर जेहादी संगठनों पर कार्यवाही नहीं की गयी तो पठानकोट जैसे हमले और भी होंगे-
पाकिस्तान के पूर्व राजनयिक ने अपनी किताब में दावा किया है कि यदि पाकिस्तान देश में चल रहे इन आतंकवादी, जेहादी संगठनों पर कार्यवाही नहीं करता है तो निश्चित ही भारत में पठानकोट जैसे और भी आतंकी हमले होते रहेंगे | उन्होंने कहा है कि पाकिस्तान को चाहिए कि भारत के खिलाफ इस तरह की शाजिश करने वाले लोगों को वे पकडें और उन्हें दण्डित किया जाय न कि उन्हें उनके घरों में नज़र बंद किया जाय | उन्होंने चिंता ब्यक्त करते हुए यह भी कहा है कि पाकिस्तान की इसी तरह की हरकतों की वजह से उसके अपने 30 साल बर्बाद हुए है और अगर ऐसा ही चलता रहता है तो पता नहीं कितना समय और भी बर्बाद होगा |

पाकिस्तान कभी भारत से टक्कर लेने लायक नहीं बन सकता –
हक्कानी ने अपनी किताब में यह भी लिखा है कि अगर पाकिस्तान को यह लगता है कि वे अपनी फौज को इतना बड़ा कर लेंगे कि वे भारत से टक्कर ले लें तो यह असम्ब्भव होगा | भारत एक मजबूत और बहुत विशाल राष्ट्र है उससे टक्कर लेने लायक पाकिस्तान कभी नहीं बन सकता | लेकिन हां वह भारत के शहरों की जिंदगियों को जरूर मुश्किल में डाल सकता है | वहां आतंकी घटनाएं करवाकर | इसके लिए जैसे पाकिस्तान हमेशा से गैर पारंपरिक तरीके अपनाता रहा है वैसा ही कर सकता है | लेकिन पारंपरिक तरीके से सैन्य ताकत कभी भी भारत के बराबर पाकिस्तान नहीं खड़ा कर सकता है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here