है किसी में दम जो चेक कर सके फर्जी पत्रकार लिखाकर चलने वाली गाडि़यों को ?

0
106

पुरवा/उन्नाव (ब्यूरो) जब से प्रदेश मे योगी सरकार आई है दो लोगो की बढ़ोत्तरी अधिक हुई जिसमें प्रथम न. पर आवारा गाय व बैल जिनसे प्रदेश का किसान परेशान है इस धान की बोवाई का टाइम चल रहा है धान की बेढ बोने वाला प्रत्येक किसान की चारपाइ जगंल में पडी दिखाई दे रही है दूससरा न. अगर देखा जाय तो हर दसवीं गाडी में( प्रेस)PRESS लिखा देखा जा सकता है जिसमे ज्यादा तर अप्राधी, आवारा, शोहदों की गाडियो में लिखा देखां जा सकता है, परन्तु इनके विरुध कार्यवाही करने की हिम्मत योगी सरकार में भी नही दिखाई दे रही है।

प्राप्त विवरण के अनुसार जिसतरह से आवारा पशुओ से किसान परेशान है और किसानों की परेशानी किसी को दिखाई नही पड रही है | अगर देखा जाय तो देश व प्रदेश में आज सबसे ज्यादा कोई परेशान है तो इस देश का किसान न समय से बिजली न नहरो मे पानी दूसरी तरफ आवारा पशु जिन्होने किसानों की रातो दिन का चैन छीन रखा है दुख तो उस समय होता है कि इस समय गर्मी के दिनो मे सभी ताल पोखर खाली पडे है आवारा पशु नालियों का पानी पीने को मजबूर है जगलों में घास नाम की चीज नही जगंल रेगिस्तांन नजर आ रहे है एसे मे जो किसान धान की बोवाई कर रहे उनकी चारपाई जंगल मे नजर आ रहीं है इसी तरह योगी सरकार में फरजी पत्रकारो की बाढ सी आ गयी है हर दसवी गाडी में आप को पत्रकार लिखा नजर आयगा जिससे प्रसासनिक अफसरों को अधिक परेशानियों का सामना करना पड् रहा है बडी मजेदार बात यह है कि परिवार में एक सदस्य पुलिस में है तो पूरे परिवार के सदस्य अपने वाहनों में पुलिस का ट्रेड मार्क बनवाकर रौब गाठते है कौन करेगा ऐसे लोगो पर कार्य वाही एक तरफ भगवा अगौछा बाइक में प्रेस लिखा कुछ लोग तो कम्पियुटर से इलेकट्रानिक मीडिया के लोगो निकलवाकर बाइको मे लगाकर ऊपर से पार र्दशी टेप चिपकाय है ऐसे लोग थानो व कचेहरी में दलाली करते नजर आरहे है कौन करेगा एसे लोगो के विरुध कार्य वाही क्या प्रदेश सरकार इस ओर अपना ध्यान आर्कसित करेगी या यूही पिछली सरकारो की तरह प्रसासनिक अफसर सत्ता के सामने मजबूर व मायूस रहेगी।

रिपाेर्ट – मो. अहमद चुनई

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY