कृषक गोष्ठी का हुआ आयोजन

0
212

IMG-20170218-WA0235
मऊरानीपुर(झाँसी)-बीर भूमि चैाका आवर्तनशील कृषि केन्द्र पर आचार्य दयाशंकर कौशिक की अध्यक्षता मे कृषक गोष्ठी हुयी । जिसमे बुन्देलखण्ड के लोगों मे छुपी श्रम की पूँजी को सामर्था अपनाकर अपनी खेती अपना सुख ,सम्रद्धशाली सम्मानित किसान , गाय ही किसानों को उन्नतशील बनाकर खुशहाल कर सकती है। आचार्य ने आगे कहा कि गौरवशाली अतीत का वर्तमान मे पुनः पुरूषार्थ की निधि अपनाकर प्रयोग धार्मिता के साथ अपनी श्रम की पूँजी से एक किसान सन्त ने पारंपरिक बैल आधारित आवर्तनशील कृषि प्रणाली से देशी बीज , खाद,गौ मूत्र एंव वर्षा जल पर से किया है। यह एक ऐसा केन्द्र विकसित जिसमे 30 ग्रामों के किसानों को जोडकर कलश्टर बैल आधारित के लिए चयनित किसानो को प्रशिक्षित कर बुन्देलखण्ड के लिए खडा किया जायेगा। जिससे मजबूर बुन्देलखण्ड की बदहाली दूर हो सकेगी। सचांलन करते हुए सुरेन्द्र कुमार ने कहा कि श्री राधव कृष्ण गौशाला मे 200 गौ धन एकत्र है जिसके लिए जीवोपार्जन की जिम्मेदारी पं0 दयाशंकर कौशिक 70 बीधा निजी भूमि मे परम्परागत जैविक खेती से किया जा रहा। गोष्ठी मे श्रवण कुमार सुखनन्दन कुशवाहा , ऊदल सिंह ,मुन्ना कुशवाहा , नीलेश मिश्रा , अनिल अडजरिया , खरपाई पाल , आदि क्षेत्र के लोग मौजूद रहे।
रिपोर्ट – रवि परिहार

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here