दहेज़ के लिए जान से मारने का मामला दर्ज

0
81

प्रतीकात्मक

जालौन (ब्यूरो) शुक्रवार को डाॅक्टर की पुत्रवधू की मौत के मामले में मृतका के पिता ने पुत्री के ससुरालियों पर दहेज की मांग पूरा न करने पर उसे मारपीट कर फांसी लगाकर हत्या करने का आरोप लगाते हुए कोतवाली में तहरीर दी। तो वहीं, मृतका के पिता की तहरीर पर पुलिस ने मामला पंजीकृत आरोपियों की तलाश शुरू की।

कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला पुरानी नझाई निवासी डाॅ. अशोक कुमार दुबे की पुत्रवधू शिवानी (25) पत्नी आशुतोष का शव शुक्रवार की शाम उसके कमरे में साड़ी के सहारे पंखे से लटका मिला था। उक्त मामले में मृतका के पिता कृष्ण मोहन निवासी तीतरा खलीलपुर ने शनिवार को कोतवाली में तहरीर देते हुए बताया उसने पिछले साल 24 नवंबर को अपनी पुत्री की शादी 10 लाख रुपये नगद, सोने चांदी के जेवरात व अपनी हैसियत के अनुसार दान दहेज देकर की थी। परंतु शादी के बाद उसके ससुरालियों में पति आशुतोष, ससुर डाॅ. अशोक द्विवेदी, सास रेखा, देवर मनीष सहित उसकी दो ननद दहेज अतिरिक्त 5 लाख रुपये की मांग को लेकर उसे शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताड़ित करने लगे। इसकी जानकारी उसकी पुत्री ने अपनी मां को दी थी। जिस पर कुछ दिन पूर्व समझा बुझाकर मामले को शांत करा आए थे। परंतु इसके बाद पुत्री के सास, ससुर ने अपने बेटे के प्राइवेट शिक्षक होने एवं सरकारी नौकरी लगने में 5 लाख रुपये देने का बहाना बनाते हुए फिर से दहेज में 5 लाख रुपये देने की मांग शुरू कर दी। इसको लेकर शुक्रवार की सुबह ससुरालियों ने उसकी बेटी के साथ मारपीट की थी। इसकी सूचना भी उसकी पुत्री ने अपनी मां को देते हुए बताया था कि दहेज की मांग पूरी न करने पर ससुरालीजन उसकी हत्या कर सकते हैं। इसके बाद शाम को उन्हें सूचना मिली की उसकी बेटी की मौत हो गई है। मृतका के पिता ने उसकी पुत्री के साथ ससुरालियों द्वारा मारपीट कर उसे फांसी के फंदे पर लटकाकर हत्या करने का आरोप लगाया। तो वहीं, उक्त मामले को लेकर कोतवाली प्रभारी महाराज सिंह तोमर ने बताया कि मृतका के पिता की तहरीर पर मामला पंजीकृत कर लिया गया है। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

रिपोर्ट – अनुराग श्रीवास्तव

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY