सलीम की मौत के छः दिन बाद भी आरोपियों पर दर्ज नहीं हुई एफआईआर

0
87

सुल्तानपुर(ब्यूरो)- सलीम की मौत के मामले में घटना के छः दिन बाद भी आरोपियो पर एफआईआर दर्ज नही हुई| मृतक सलीम के भाई नसीम ने करौंदिया निवासी महेंद्र सोनकर, रज्जन सोनकर व दो अज्ञात के खिलाफ हत्या का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है| आरोपियो पर सलीम को स्मैक का सेवन कराकर मार डालने का आरोप है|

बीते 11 जून को आरोपी घर से सलीम को अपने साथ लिवाकर गये थे| आरोप के मुताबिक शहर से आये सलीम के पास उस दौरान 10 हजार रूपये थे| सलीम दोस्तों के साथ जाने के बाद से ही दो दिनों तक लापता रहा| बीते 13 जून को करौंदिया इलाके में सलीम की लाश रेलवे ट्रैक के पास मिली थी| लाश मिलने के बाद ही महेंद्र समेत अन्य पर हत्या का आरोप लगाते हुए नसीम ने कोतवाली में तहरीर दी थी| कोतवाली पुलिस ने ही सलीम के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया था, पर अब वही पुलिस घटना को जीआरपी से जुड़े होने की बात कहकर एवं तहरीर न मिलने की बात कहकर एफआईआर दर्ज करने में टाल-मटोल कर रही है|

सूत्रों के मुताबिक स्मैकियों से मामला जुड़ा है, जो कि पुलिस महकमे के लोगो की कमाई का अटूट जरिया बना है| सूत्रों की माने तो इन्ही सब कारणों से इतने गम्भीर मामले में पुलिस एफआईआर नही दर्ज कर रही| मुख्यमंत्री व डीजीपी समेत अन्य से कोतवाल के करतूत की शिकायत हुई है| एफआईआर दर्ज करने की अनिवार्यता वाली सरकार की मंशा पर पानी फिरा| यही है जिले की पुलिस का हाल, जनप्रतिनिधि भी बने है इन जिम्मेदार अफसरों की करतूत से बेखबर प्रदेश सरकार का दावा हवा हवाई साबित हो रहा।

रिपोर्ट- संतोष यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here