अपने गुनाहों को छुपाने के लिए फाइलों में लगाई आग

0
73


रायबरेली ब्यूरो : लोक निर्माण विभाग में कुछ फाइले जलाई गयी हैं, इन फाईलो का रहस्य गहराता ही जा रहा है। विभागीय सूत्रो की माने तो वर्तमान समय में तैनात अधिशासी अभियंता ने अपने कार्यकाल में प्रांतीय खंड में अपने चहेते ठेकेदारो को तमाम गलत तरीके अपना कर उपकृत किया और जब लगा कि योगी सरकार में उनके द्वारा किये गए गलत कार्यो की पोल खुल सकती है तो अपने सबसे खास बाबू को इन फाईलो को छाँट कर जला देने का फरमान सुना दिया। जो कागज जलाये गए उनमे बांड कॉपी, ठेकेदारो से किये गए एग्रीमेंट के साथ ही वर्क आर्डर और एच्आर द्वारा किये गए फर्जी भुगतान के कागजों को आग के हवाले कर दिया गया।

विभाग के अधिकारिओ से बात करने पर बताया गया कि ऑफिस में साफ सफाई में निकले रद्दी कागजों को जलाया गया। जबकि सूत्रों का कहना है कि सडको के निर्माण में अपने चहेतो को कम दर पर मिले कामो को लगातार एक्सटेंशन दे दे कर उनकी लागत को बढ़ा दिया गया और उसमें मिले पैसो का आपस में बंदरबांट कर लिया गया। लोक निर्माण विभाग के प्रांतीय खंड से सीआर फ के फण्ड से रायबरेली महराजगंज मार्ग का निर्माण एसडीसी डालकर किया गया और उसमे तारकोल की मात्रा कम होने से त्रिपुला चैराहे से 500 मीटर आगे पूरी सड़क ध्वस्त हो गयी। इस पर अधिकारियो ने बजाय उसको उखाड़कर बाहर कर उस पर नयी एसडीसी लेपन करने की जगह सड़क के छतिग्रस्त भाग पर पैच मरम्मत करा कर अपने कामो की इतिश्री कर ली। विभाग में हुए ऐसे ही तमाम गड़बड़ियों से अधिकारियो ने पल्ला झाड़ने के लिए ही उन कार्यो से जुड़े कागजों को जलाना ही बेहतर समझा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here