अग्निशमन सेवा स्मृति दिवस मनाया गया

0
88
प्रतीकात्मक

जौनपुर(ब्यूरो)- जिला अग्निशमन अधिकारी के के ओझा ने बताया कि 14 अप्रैल 1944 का एक धधकता शुक्रवार था, जब विक्टोरिया डाक बम्बई में सेना की विस्फोट सामग्री से भरा पानी का जहाज लपटों के आगोश में समा गया। आग पर काबू पाने के लिए बंबई फायर सर्विस के एक सैकड़ा अधिकारी व कर्मचारी घटनास्थल पर भेजे गए।

अटूट साहस और पराक्रम का प्रदर्शन करते हुए इन जाबाज अग्निशमन कर्मचारियों ने धधकती ज्वाला पर काबू करने का भरसक प्रयत्न किया। आग पर नियंत्रण तो पा लिया गया, लेकिन इन कोशिश में  66 फायरमैन को अपनी जान की आहूति देनी पड़ी।

पुलिस अधीक्षक अतुल सक्सेना के निर्देशन में उन्ही 66 शहिद अग्निशमन कर्मचारियों को श्रद्धांजलि देने के लिए आज 14 अप्रैल 2017 को मुख्य अग्निशमन अधिकारी राज प्रकाश राय के नेतृत्व में फायर स्टेशन चौकिया में अग्निशमन सेवा स्मृति दिवस मनाया गया। स्मृति दिवस परेड में अग्निशमन अधिकारी के के ओझा सहित समस्त अग्निशमन कर्मचारी उपस्थित रहे तत्पश्चात पिनफ्लैग लगाया गया।

इस दिवस के विभिन्न आयोजन पूरे सप्ताह भर चलते है 14 अप्रैल से 20 अप्रैल 2017 तक अग्निशम सुरक्षा सप्ताह के दौरान फायर सर्विस द्वारा विभिन्न कारखानों, शैक्षणिक संस्थाओं, व्यवसायिक भवनों, ग्रामीण, क्षेत्रों आदि जगहों पर अग्नि से बचाव सम्बन्धी प्रशिक्षण दिया जाता है।

अग्निशमन सप्ताह के अन्तर्गत नागरिकों को अग्नि से बचाव तथा सावधानी बरतने के सम्बन्ध में जागृत करने के लिए विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाते है इसका उद्देश्य अग्निकाण्डों से होने वाली क्षति के प्रति नागरिकों को जागरुक करना होता है। इसी क्रम में 15 अप्रैल 2017 को फायर स्टेशन चौकिया से नगर क्षेत्र में फायर रैली निकलकर जनता को जागरुक किया जायेगा।

रिपोर्ट- डॉ. अमित कुमार पाण्डेय 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY