फिरोज गांधी कॉलेज के विद्यार्थियों ने किया एफडीडीआई का शैक्षणिक भ्रमण

0
365


रायबरेली(ब्यूरो)। फीरोज गांधी डिग्री काॅलेज के विद्यार्थियों के एक दल ने राजनीति विज्ञान विभाग तथा एनएसएस की तरफ से शैक्षणिक भ्रमण हेतु फुरसतगंज में स्थित फुटवियर डिज़ाइन एण्ड डेवलपमेंट (एफडीडीआई) का दौरा किया।जिसे फ़िरोज़ गांधी कालेज के प्रिंसिपल डॉ. एस. के. पाण्डेय ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दल में शामिल विद्यार्थियों ने एफडीडीआई में संचालित विभिन्न पाठ्यक्रमों की विस्तृत जानकारी प्राप्त की।

साथ ही साथ विद्यार्थियों को एफडीडीआई की विभन्न कार्यशालाओं एवं उनमें प्रयुक्त की जाने वाली नवीनतम तकनीक, मशीनों आदि का भी विस्तृत विवरण प्रदान किया गया। तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास की बढ़ती मांग को देखते हुए इस भ्रमण दल को एफडीडीआई में संचालित किये जा रहे विभिन्न तकनीकी पाठ्यक्रमों की विस्तृत जानकारी प्रदान की गई। फुटवियर विभाग से राजेश पराशर एवं प्रदीप शुक्ला, रिटेल डिपार्टमेंट से मानिका वर्मा, तथा लेदर गुड्स डिपार्टमेंट से सत्यदीप चटर्जी एवं रुचि सिंह ने अपने-अपने विभागों की कार्यप्रणाली, पठन-पाठन आदि के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। एफडीडीआई की उपप्रबंधक प्रीति भटनागर ने फीरोज गांधी कॉलेज के छात्र-छात्राओं को तकनीकी शिक्षा के महत्व एवं भविष्य में उससे जनित रोजगार के अवसरों के विभन्न पहलुओं के बारे में बताते हुए कहा कि एफडीडीआई में संचालित पाठ्यक्रम न केवल युवाओं को उच्च शिक्षा तथा रोजगार के अवसर प्रदान कर रहे हैं, अपितु वर्तमान में भारत सरकार की ‘‘मेक इन इण्डिया’’ की अवधारणा को भी प्रत्यक्ष तथा परोक्ष रूप से पोषित कर रहे हैं।

एफडीडीआई का उद्देश्य भारत में तेजी से उन्नति की ओर अग्रसर फैशन, रिटेल तथा फुटवियर इंडस्ट्री को कुशल मानव श्रम प्रदान करना है। अपने इस उद्देश्य को पूरा करते हुए एफडीडीआई ने न केवल भारतीय उद्योग जगत को अपितु इस क्षेत्र में कार्यरत अन्य विदेशी कम्पनियों को भी सर्वोत्कृष्ट मानव संसाधन उपलब्ध कराया है। ज्ञातव्य है कि फुरसतगंज में अपने प्रादुर्भाव के वर्ष 2008 से ही एफडीडीआई इस क्षेत्र के विद्यार्थियों के लिए उच्च शिक्षा का प्रमुख केन्द्र बना हुआ है। एफडीडीआई परिसर अपने उत्कृष्ट विनिर्माण एवं अवसंरचना के लिए पूरे क्षेत्र में प्रसिद्ध है, जिसमें फुटवियर तथा चमड़ा उत्पादों की डिजाइन, निर्माण तकनीक के साथ-साथ प्रबंधन, फैशन डिज़ाइन आदि विषयों में अध्ययनरत 1000 से भी अधिक विद्यार्थियों के पठन-पाठन की व्यवस्था है। लगभग 15 एकड़ में फैला हुआ परिसर वातानुकूलित अध्ययन कक्ष, आधुनिक मशीनों एवं उपकरणों से सुसज्जित प्रायोगिक कक्षों, 200 से भी अधिक अत्याधुनिक कम्प्यूटरों वाली प्रयोगशाला, पाठ्यक्रम संबंधित, समसामयिक एवं अन्य बहुपयोगी पुस्तकों, पत्र-पत्रिकाओं वाला पुस्तकालय जैसी विश्वस्तरीय सुविधाओं से परिपूर्ण है, जिससे कि विद्यार्थियों को अंतर्राष्ट्रीय आधार पर स्थापित मानकों के अनुसार शिक्षण एवं प्रशिक्षण प्रदान किया जा सके। इस मौके पर डॉ. दिनकर त्रिपाठी, आजेंद्र प्रताप सिंह, डॉ. अभय सिंह, डॉ. निगार खादिम, डॉ. श्रद्धा द्विवेदी, अजय, अभिषेक यादव, अंकुश, दिग्विजय,आकाश मौर्य, मंजू पंथी, मंजू वर्मा,अंजू पाल,गरिमा वर्मा,निधि द्विवेदी, बीएम मिश्रा, आयुषी मिश्रा आयुषी सिंह,अनुज प्रताप सिंह, दीक्षा, रत्ना यादव, अंशुल सोनी, अमित सिंह आदिति मौर्या, सुशील कुमार यादव व राहुल यादव सहित तमाम छात्र मौजूद रहे।

रिपोर्ट- राहुल यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY