उद्यान विभाग से संचालित योजनाओं में कृषकों का पंजीकरण आनलाइन ‘‘पहले आओ-पहले पाओ’’ अनुदान का भुगतान डी0बी0टी0 से लागू

प्रतापगढ़ (ब्यूरो) जिला उद्यान अधिकारी श्री रणविजय सिंह ने एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से अवगत कराया है कि उद्यान विभाग के अन्तर्गत संचालित योजनाओ में कृषकों का पंजीकरण आनलाइन (यूपी एग्रीकल्चर डाट काम पर) ‘‘पहले आओ पहले पाओ’’ अनुदान का भुगतान डी0बी0टी0 से लागू है। वित्तीय वर्ष 2017-18 में एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना में अवशेष लक्ष्य केला की खेती (लक्ष्य सामान्य कृषक हेतु-12.25 है0 एवं एस0सी0पी0 कृषक हेतु-10है0), अमरूद रोपण (लक्ष्य सामान्य कृषक हेतु-3 है0 एवं अनु0 कृषक हेतु 1है0), आम रोपण (लक्ष्य अनु0 कृषक हेतु-2 है0) में जिन कृषकों द्वारा आनलाइन रजिस्टेªशन किया गया हो वह अपना आवेदन दिनांक 19.06.2017 तक उपलब्ध करा दें अन्यथा उनके बाद के रजिस्टर्ड कृषकों को चयनित कर लिया जायेगा।

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना में प्राप्त प्रस्तावित कार्ययोजना औद्यानिक एवं कृषि फसलों हेतु ड्रिप सिंचाई-83 है0, पोर्टेबल स्प्रिंकलर सिंचाई-360 है0, मिनी स्प्रिंकलर-10 है, माइक्री स्प्रिंकलर-100 है0, औद्यानिक विकास योजना (एस0सी0पी0) के अन्तर्गत प्राप्त अनन्तिम लक्ष्य कद्दूवर्गीय सब्जी की खेती-2 है0, संकर शिमला मिर्च-1.5 है0, संकर मिर्च-2 है0, संकर धनिया की खेती-1 है0, लहसुन की खेती-1 है0, गेंदा की खेती-1 है0, आई0पी0एम0-2 है0, फलपट्टी विकास योजना के अन्तर्गत प्राप्त पावर स्प्रेयर-1 एवं प्रेषित कार्ययोजना आम एवं आंवला बाग रोपण, पुराने बागो का जीर्णोद्धार, आई0पी0एम0 तथा गुणवत्तायुक्त पान उत्पादन को प्रोत्साहन योजना के अन्तर्गत प्राप्त लक्ष्य 5 पान बरेजा का निर्माण (1500 वर्ग मी0) के सापेक्ष कृषक अपना पंजीकरण कराकर शासनादेश के अनुरूप पंजीकरण के तीन दिवस के अन्दर अपना आवेदन अधोहस्ताक्षरी कार्यालय में प्राप्त करा दें अन्यथा आपके बाद पंजीकृत कृषक जिसने शासनादेश के अनुरूप निर्धारित अवधि में आवेदन जमा कर दिया होगा वह आपसे पहले कार्यक्रम का पात्र हो जायेगा एवं उसका आवेदन लक्ष्य की उपलब्धता पर स्वीकृत कर दिया जायेगा। कार्यक्रम के अन्तर्गत पौध/निवेश/राजकीय पौधशाला से क्रय कर समस्त कार्यक्रम कृषक को अपने व्यय से स्वयं करना होगा। कार्यक्रम के अन्तर्गत अनुदान का भुगतान सत्यापन के उपरान्त बजट की उपलब्धता के आधार पर कृषक के खाते में आनलाइन डी0बी0टी0 के माध्यम से किया जायेगा। अतः इच्छुक कृषक कार्यक्रमों में अपना रजिस्टेªशन कृषक लोकवाणी/जन सुविधा केन्द्र/साइबर कैफे से कराकर रजिस्टेªशन की कापी तथा खतौनी, बैंक पास बुक के प्रथम पेज की फोटोकापी, आधार कार्ड की छायाप्रति एवं एक फोटो कार्यालय में रजिस्टेªशन के तीन दिवस के अन्दर जमा कर दें। जिससे वास्तविक लक्ष्य के अनुरूप पंजीकृत कृषकों के आवेदन पर नियमानुसार चयन कर विचार किया जा सके।

रिपोर्ट – अवनीश कुमार मिश्रा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here