मोदी के संसदीय क्षेत्र पर मंडरा रहा बड़ा खतरा, कई शहर हो सकते हैं तबाह…

0
2987

VaranasiModi--621x414
भारत के प्रधानमत्री के नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी पर बड़ा खतरा मंडरा रहा है और कभी भी यहाँ पर हाईअलर्ट जारी किया जा सकता है, पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में गंगा खतरे के निशान से ऊपर पहुँच गयी है, और पानी किसी भी समय घाटों से ऊपर आ सकता है, हालाँकि जलस्तर अभी 1978 की बाढ़ से 8 फीट नीचे है, लेकिन रात में करीब 1 बजे गंगा 71.35 मीटर तक पहुँच गयी, जिसके कारण वरुणा में उफान आ गया और तराई में बसे 10 हज़ार परिवार प्रभावित हुए हैं |

फिलहाल मणिकर्णिका और हरिश्चंद्र घाट पपनी में पूरी तरह डूब गए हैं, जिसके चलते शवों का दाह सस्कार ऊपर गलियों में किया जा रहा है, और गंगा की आरती छतों से हो रही है, केन्द्रीय जल आयोग के अनुसार पहाड़ी क्षेत्रों में भारी बारिश की वजह से जल के स्तर में बढ़ोत्तरी जारी रहेगी |

मिर्ज़ापुर में गंगा 3 सेंटी मीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से बढ़ रही है, बलिया और गाजीपुर के सैकड़ों गांव बाढ़ की चपेट में हैं, जबकि जौनपुर में गोमती प्रतिदिन 2 मीटर की रफ़्तार से बढ़ रही है, तटीय क्षेत्रों में कटान का खतरा बढ़ गया है |

गंगा में जलस्तर बढ़ने का प्रमुख कारण मध्यप्रदेश की नदियों केन, बेतवा और चंबल है, चित्रकूट, बांदा और हमीरपुर के रास्ते यमुना में आ रहा केन, बेतवा और चंबल का पानी यमुना को रिचार्ज करते हुए गंगा में मिल रहा है, यमुना का पानी नानी में आकर गंगा में मिल रहा है. इसके चलते गंगा के जलस्तर में बढ़ोत्तरी जारी रह सकती है | यदि गंगा इसी रफ़्तार से बढती रही तो आने वाले दिनों में स्थिति काफी भयावह हो सकती है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY