हरियाली पर चल रहा वन माफियाओं का आरा

0
41

लालगंज/रायबरेली(ब्यूरो)- तहसील क्षेत्र के सरेनी थाने के तहत अब भी हरे पेडों का कटान बदस्तूर जारी है। वन माफिया सरताज के द्वारा पूरे सरेनी थाना क्षेत्र मे आम, महुआ, नीम, शीषम आदि के पेड धडल्ले से काटे जा रहे है। योगी सरकार के हरे पेडों पर प्रतिबंध का फरमान वन माफिया सरताज के ऊपर असर करता नही दिखायी पड रहा है। जब भी शिकायत होने पर कोई कार्यवाही होती है तो सरताज अपने किसी मजदूर के नाम मुुकदमा लिखाकर साफ बच जाता है।

ताजा मामला सरेनी थाने के ग्राम सतवाखेडा का बताया जाता है। सूचना पाकर पहुंची यूपी 100 पुलिस की गाडी ने पाया कि दो महुआ के हरे पेड काटे जा रहे है। मौके पर दो पेड कटे पाये गये।जिन्हे ले जाने हेतु तीन टैªक्टर ट्राली व एक हाइड्रा भी मौके पर पाया गया। पुलिस को देखकर लकडी काट रहे कई मजदूर भाग निकले, मौके पर छितौना निवासी सलीम पुत्र अयूब को पुलिस ने हिरासत मे ले लिया है। पीआरवी जे 757 के पुलिस कर्मी विमलेस कुमार मिश्र, सुरेन्द्र वर्मा, श्रीराम मौर्य ने सरेनी थाने की पुलिस बुलाकर लकड़ी काट रहे सलीम पुत्र अयूब सहित ट्रेक्टर, ट्राली, हाइड्रा व लकडी को उनके सुपुर्द कर दिया है।

उल्लेखनीय है कि वन माफिया सरताज भी छितौना का ही निवासी है। वहीं सलीम ने यह भी बताया कि पेड छितौना निवासी नफीस ने कटाया है। यहां ये भी बताते चले कि वन माफिया सरताज का कहना है कि सिपाही से लेकर पत्रकार, जनप्रतिनिधि सहित तहसील स्तर के पुलिस अधिकारियों को चढावा चढाकर डंके की चोट पर पेड काटता हूं। सरकार चाहे जो कुछ करले, सरताज का पेड कटान नही रूकेगा।

रिपोर्ट- राजेश यादव 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY