एच्छिक ब्यूरो में चार लोगों ने खाई साथ जीने मरने की कसमें

0
69

औरैया(ब्यूरो)- महिला थाना में आयोजित स्वैच्छिक दिवस पर महिला थानाध्यक्ष द्वारा चार मामलों को पर निस्तारित कर शेष की अगली सुनवाई के लिये तारीखों का आवंटन किया। थानाध्यक्ष दीपा सिंह ने चार जोडों की ओर से अपने-अपने मामले न्यायालय में निस्तारित करने और शेष चार फाइलों को बन्द कर आपसी मनमुटाओ के कारण सालों से एक दूसरे से दूर रह रहे जोड़ों को आपसी सुलह समझौते द्वारा साथ रहने को राजी किया।

इन मामलों में ज्योति पत्नी मंयक निवासी प्रेमानन्द आश्रम औरैया, माण्डवी पत्नी वेदप्रकाष निवासी चमरौआ ने आपसी सुलह समझौता कर एक दूसरे के साथ जीवनपर्यन्त साथ रहने की कसम खाई। वहीं दूसरी तरफ सोनी पत्नी अमित कुमार इन्द्रा नगर दिबियापुर, हितकरन सिंह पुत्र गजाधर निवासी मुहल्ला षिवनरायन इटावा, अखिलेष कुमारी पत्नी राजू कीरतपुर थाना विधूना शेलेष कुमारी पुत्री सुभाष चन्द्र दहगांव औरैया के मुकदमें काफी लम्बे समय से न्यायालय में लम्बित चल रहे थे। जिनकी कई बार एच्छिक ब्यूरो में सुनवाई की गयी परन्तु वहां सुलह समझौता न हो पाने के कारण न्यायालय के बार-बार चक्कर लगाने पड रहे थे।

महिला थानाध्यक्ष को इनके द्वारा अवगत कराया गया कि इन्होने न्यायालय में लम्बित मामलों को निपटा लिया है। जिससे एच्छिक व्यूरों में इनकी फाइलों को बन्द कर दिया गया है। शेष 14 फाइलों की सुनवाई के लिये महिला थानाध्यक्ष द्वारा अगले दिवस के लिये तरीख निष्चित कर दी गयी है। इस मौके पर समाज सेवी सीमा चैहान सहित महिला थाना का समस्त स्टाफ मौजूद रहा।

रिपोर्ट- मनोज कुमार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY