चौदह सूत्रीय माँगों को लेकर रेल प्रशासन को दिया अल्टीमेटम

0
163

railway union

मुगलसराय (ब्यूरो)- ई०सी० रेलवे महा गठबंधन यूनियन के तत्वावधान मे रविवार को स्थानीय रेलवे क्षेत्र के इंडियन इंस्टीट्यूट कालोनी स्थित सामुदायिक भवन के प्रांगण मे द्वितीय स्थापना दिवस के अवसर पर जोनल युवा सम्मेलन का आयोजन किया गया ।कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए राष्ट्रीय संयोजक राम मूरत यादव ने कहा कि रेल कर्मचारी रेल के लिए अपना खून और पसीना सब कुछ बहा देता है लेकिन सुविधा के नाम रेल प्रशासन मात्र उसे आश्वासन की घुट्टी पिला कर अपने मन माफिक काम कराती रहती है। गठबंधन अब रेल कर्मचारियों का शोषण बर्दाश्त नहीं करेगा।

हम सब एकजुट होकर रेल के अनैतिक कार्यो के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाने का काम करेंगे। उक्त अवसर पर जोनल पदाधिकारी बी के सिंह ने अपने संबोधन मे कहा कि इंजीनियरिंग विभाग और स्वास्थ्य विभाग मनमाने रूप से कर्मचारियों का शोषण कर रहे हैं रेल आवासों के चूते छत झड रहे प्लास्टर नालियों मे भरी गंदगी अस्पताल मे दवाओं की कमी इस बात के पुख्ता सबूत हैं। केंद्रीय सहायक महामंत्री अशोक कुमार सिंह ने बिजली बिल के मुद्दे को उठाते हुए कहा कि बिजली बिल मे बेतहाशा वृद्धि से रेल कर्मियों की कमर टूट गई है लेकिन प्रशासन इसे नहीं समझ पा रहा है यदि शीघ्र ही उक्त मामले को संग्यान मे लेकर निराकरण नहीं हुआ तो हम आंदोलन के लिए बाध्यहोंगे । आर पी एफ के संतोष सिंह ने अपने वक्तव्य मे कहा कि हमारी समस्याओं के प्रति रेल प्रशासन लापारवाह हो गई है इसलिए हमे एकजुट हो कर अपनी माँगों को प्रशासन के सामने रखना होगा।

रामचंद्र सिंह ने संबोधित करते हुए कहा कि ट्रैक मेंटेनर हेतु जी डी सी ई व मंडल स्तर की परीक्षा तुरंत कराई जाय और उन्हे लार्जेस स्कीम के तहत लाया जाय । तनवीर आलम ने बोलते हुए कहा कि सातवे वेतन आयोग के सभी भत्ते कर्मचारियों को अविलंब दिया जाय कुली कमीशन वेंडर आदि को क्वालिफाईंग सर्विस मानकर सेवानिवृत्ति का लाभ प्रदान किया जाय। बी डी आर एम ए के राष्ट्रीय जनरल सेक्रेटरी राजेंद्र राम ने अपने संबोधन मे रेल प्रशासन को कोसते हुए कहा कि प्रशासन हमारे साथ सौतेला व्यवहार कर रहा है रेलवे क्वार्टरों की स्थिति बदहाल है तो रेलकर्मचारी हमेशा काम करते करते बीमार होने की ओर अग्रसर है। अस्पताल मे न तो पूरी दवा मिलती है ना ही संपूर्ण इलाज के लिए ब्यवस्था । टी आर एस शेड मे एमसीएम से जेई हेतु परीक्षा तुरंत कराई जाय साथ ही साथरेल संरक्षा को ध्यान मे रखते हुए नौ घंटे से अधिक सेवा नहीं ली जाय। वक्ताओं ने उक्त युवा सम्मेलन मे चौदह सूत्रीय माँगो के समर्थन मे हुंकार भरते हुए रेल प्रशासन को चेताया और कहा कि हमारी उक्त माँगे यदि शीघ्र पूरी नहीं होती हैं तो हम आगे बड़ा संघर्ष करने के लिये बाध्य होंगे।

कार्यक्रम मे मुख्य रूप से जी तिवारी, जफर हसन, बृजेश यादव, मुनमुन कुशवाहा, लालबाबू राय, मनोज कुमार यादव, आर एम पासवान, आदि ने अपने विचार व्यक्त किये वहीं कुमारिका सान्याल के नेतृत्व मे लोको अस्पताल की नर्सों सहित अन्य विभागों की महिलाओं ने भी महाधिवेशन मे शिरकत किया। मौक़े पर आगंतुकों का स्वागत रमेश सिंह, शिव कुमार सिंह बघेल आदि ने किया। मौक़े पर मुख्य रूप से डी एन वर्मा, महाबीर यादव, देवेंद्र प्रसाद स्वामी नाथ यादव संतोष तिवारी दिनेश तिवारी मुकेश कुमार सूरत कुमार एन के मिश्रा ओ पी सिंह आर सी सिंह श्यामजीत आर पी यादव पी एन सिंह पाँचू यादव जनार्दन पंडित बी के पाल अनिल कुमार शिवकुमार सिंह अली ख़ान सूर्यनाथ आदि सहित हजारो की संख्या मे रेलकर्मचारी मौजूद रहे ।
रिपोर्ट- उमेश दुबे

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here