प्रधानमंत्री आवास योजना में गोलमाल करने वालों की खैर नहीं

0
45

मऊ(ब्यूरो)।केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री आवास योजना को मूर्त रूप देने के लिए विभाग ने कमर कस ली है। डीआरडीए लगातार जोर दे रहा है कि पात्रों को योजना का लाभ मिले। योजनाओं की प्रगति का जायजा लेने के लिए बुधवार को परियोजना निदेशक ग्राम्य विकास अभिकरण वीवी ¨सह परदहां ब्लाक धमक गए। अचानक अधिकारी के जो कर्मी इस दौरान खंड विकास कार्यालय में अनुपस्थित मिला उसे पीडी ने कड़ी चेतावनी दी।

इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री आवास की पत्रावली को तलब किया और कर्मियों को सख्त हिदायत दी। चेताया कि अगर कोई भी झुग्गी झोपड़ी में निवास करने वाला पात्र छूटा तथा योजना में कहीं से भी कमीशन खोरी या गोलमाल की शिकायत मिली तो संबंधित अधिकारी व कर्मचारी की खैर नहीं। परियोजना निदेशक ने इस दौरान संबंधित बाबुओं को कड़े निर्देश दिए। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पहली किश्त पाए लाभार्थियों की सूची तलब की। निर्देश दिया कि लाभार्थी द्वारा जैसे ही पहली किश्त की धनराशि खर्च कर ली जाती है वैसे ही ग्राम सचिव उसकी फोटोग्राफी करा लें। इसके बाद सभी सूची एक एकत्रित कर प्रस्तुत करें, ताकि दूसरी किश्त भी भेजी जा सके। चेताया कि कोई गरीब योजना से वंचित नहीं होना चाहिए। इसके लिए सचिव गांवों में जाएं और सूची बनाएं। इसमें मानकों का ध्यान रहे, बिना मानक के कोई भी कार्य न हो। अगर ऐसा होगा तो कार्यवाई तय है।

ग्राम पंचायत अधिकारी प्रदीप कुमार से पूछा सूची अपलोड हुई। सही उत्तर नहीं मिलने पर उनको फटकार लगाते हुए कंप्यूटर आपरेटर को निर्देशित किया कि लाभार्थियों की सूची आनलाइन करते हुए अगर कोई दबाव आता है तो उसकी सूचना तत्काल दी जाए । कड़ी चेतावनी दी कि आवास व विकास संबंधित कार्यो के लिए ग्राम सभा की खुली बैठक में प्रस्ताव मंगाया जाए। वहीं मनरेगा मजदूरों का भुगतान मस्टररोल फीडिंग कराकर कराएं, साथ ही गांव में प्रधान द्वारा नाडेप वर्मी कंम्पोस्ट यानी कूड़ा कचरा खाद गड्ढा बनवाकर रखवाने का सख्त निर्देश दिया। कहा कि आंगनबाड़ी केंद्रों को 15 अगस्त तक पूर्ण कराएं। इस दौरान एडीओ पंचायत राजेश तिवारी, हृदय शंकर सिह, सदाशिव सिह, विरेंद्र कुमार, मिलन सिह, सुबेदिता सिह, राजेश सिह, रामसूरत राम, प्रदीप कुमार, कुंवर राहुल सिह, प्रशांत दुबे, संतोष आदि कर्मी रहे।

रिपोर्ट-नुरुल होदा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY