नकली सिपाही महीनों तक करता रहा असली थाने में नौकरी

0
199

police_1444858807

मध्य प्रदेश के देवास जिले में एक नये तरह का मामला सामने आया है, यहाँ शिवनारायण सेंगर नाम का एक युवक पिछले कुछ समय से फर्जी तरीके से पुलिस की नौकारी कर रहा था |

यहाँ पर ज्वाइन करने से पहले आरोपी प्रदेश के अन्य जिलों में एम. पी. पुलिस आरक्षक की वर्दी पहनकर घूमता रहा और पुलिस वालों से मेलजोल बढाकर उनका काम सीखता रहा जब घरवालों की तरफ से नौकरी के लिए दबाव बढ़ने लगा तो उसने देवास में यह सोचकर फर्जी दस्तावेज के साथ ज्वाइन करने की सोची कि घर से पास होने के कारण वह अपने घरवालों को भी यहाँ लाकर दिखा सकता है कि वह पुलिस में नौकरी कर रहा है |

मामला सामने तब आया जब क्षेत्र के टीआई ने उसके नेम प्लेट पर 1589 नंबर देखा तो टीआई को उसपर शक हुआ वास्तव में जो नंबर उसकी नेम प्लेट पर लिखा था उतना पुलिस देवास जिले में है ही नहीं |

पकडे जाने के बाद आरोपी ने कबूल किया कि आरआई देवास की सील उसने यूपी के इटावा से बनवाई थी जबकि दस्तावेज भिंड के साइबर कैफ़े में तैयार किये थे | आरोपी ने यह भी कबूल किया कि अपनी वर्दी का रौब दिखाकर वह लोगों को पैसों के लिए ब्लैकमेल भी करता था |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

11 − 3 =