स्वच्छ वातावरण में रहने से हमें रोगों से मिलेगी मुक्ति : अजीत मिश्रा


बलिया (ब्यूरो) जनपद की समाजसेवी संस्था छात्र सहायता समिति द्वारा पौधरोपण कार्यक्रम एवं पर्यावरण संकल्प अभियान द्वारा प्रथम शहीद मंगल पाण्डेय प्राथमिक विद्यालय मिड्ढ़ी बलिया में पौधरोपण किया गया। पौधरोपण के बाद मुख्य वक्ता के रूप में मु0बजैर प्रधानाध्यापक ने कहा कि हम लोग सौभाग्यशाली है कि हम लोगों के आसपास पेड़ पौधों की संख्या उतना कम ही जितना अन्य बडे शहरों में है। यहीं कारण है कि बडे शहरों में घुटन सी महसूस होता है, क्योंकि वहां स्वच्छ वातावरण नहीं होता है। पेड़-पौधे मनुष्य के मुख्य आधार है।

आईटीआई के प्रबंधक अजीत मिश्रा ने कहा कि वृक्ष एक स्वच्छ वातावरण की नींव रखने है जिससे कि हम स्वच्छ वातावरण में सांस लेते है। स्वच्छ वातावरण में रहने से हमें रोगों से मुक्ति मिलती है। इसलिए हमें धरा का संतुलन बनाये रखने के लिए अपने जीवन में अधिक से अधिक पौधे लगाने चाहिए। संस्था द्वारा पांच लाख पौधरोपण के संकल्प के तरफ अग्रसर है। इसके लिए छात्र सहायता समिति को साधूवाद देते है।

पूर्व सभासद रघुनाथ सिंह ने कहा कि आज बडे पैमाने पर पेड़ों की कटाई हो रही है। बडे पैमाने पर जंगलों की सुरक्षा पौधरोपण करके किया जा सकता है। इसके लिए बंजर जमीनों पर पुनः जंगल लगाया जा सकता है, जिससे हमें फल-फूल व आक्सीजन प्राप्त होती है। संस्था के अध्यक्ष सर्वदमन जायसवाल ने कहा कि बडे सौभाग्य से शिक्षक, छात्र, मुहल्लेवासी एक साथ एकत्रित हुए है। उन्होंने अपील कि कि आप लोग एक वृक्ष जरूर लगाये व आप के जन्म दिन पर ही हो या आप के महत्वपूर्ण तिथियों पर क्योंकि वृक्ष हैं प्राण, वायु प्रदान करने के साथ-साथ निम्न आवश्यकताओं की पूर्ति करती है। धरती के तापमान को नियंत्रित करते है। इसलिए हर व्यक्ति को कम से कम एक पौधरोपण कर उसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।

इस अवसर पर मुख्य रूप से अमित सिंह, प्रेमशंकर चौबे, रवि सिंह, अजीत सिंह, अनुप पुषकर, शैलेन्द्र सिंह अंटू, उमेश गुप्ता, अजय गुप्ता, अवधेश कुमार सिंह बिंटू, सविता देवी, रिंकू सिंह, शारदा देवी, सुनिल सिंह, रितेश श्रीवास्तव, वेदप्रकाश सिंह, विकास यादव, राहुल सिंह, नितेश सिंह, श्रीप्रकाश, राजेश कुमार सिंह, नीशु उपाध्याय, धनंजय सिंह आदि मौजूद रहे। अध्यक्षता संस्था के अध्यक्ष सर्वदमन जायसवाल व संचालन सुनील सिंह ने किया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here