आपदा से बचाव के साथ-साथ एनडीआरएफ ने लगाया बड़ागांव में निशुल्क चिकित्सा शिविर

0
172


वाराणसी ब्यूरो : वाराणसी स्थित ११ एनडीआरएफ ने लखनऊ व चंदौली जिले में सफलतापूर्वक निशुल्क चिकित्सा शिविर लगाने के बाद कशी नगरी वाराणसी में भी निशुल्क चिकित्सा शिविरों का आयोजन कर रही है और साथ ही आने वाली प्राकृतिक आपदाओं के प्रति लोगों को जागरूक करने का कार्य भी कर रही है । भारत सरकार द्वारा एनडीआरएफ के माध्यम से ये चिकित्सा शिविर वाराणसी के निर्धन, मलिन व ग्रामीण क्षेत्रों में लगाए जा रहे हैं । दिनांक 10 जून 2017 को यह शिविर ग्राम साधुगंज बड़ागांव, तहसील पिंडरा में लगाया गया ।

देखने में आ रहा है कि स्वास्थ्य संबंधी महँगी जांच और दवाओं के लिए लोगों को हॉस्पिटल के कई चक्कर लगाने पड़ते है जिससे लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ती है और समय भी बर्बाद होता है । इस समस्या से राहत देने के लिए एनडीआरएफ द्वारा एक ही दिन में गरीब व बेसहारा लोगों के हार्ट, किडनी, फेफड़े, आँख, खून व सभी अंगों की पैथोलॉजिकल जांच आदि कराकर वर्त्तमान बीमारियों के इलाज के साथ-साथ आने वाली संभावित बीमारियों के बारे में भी विस्तार से बताया जा रहा है । इन चिकित्सा शिविरों में उच्च कोटि की दवाएं निशुल्क प्रदान की जा रही हैं और ईसीजी, क्रेटेनाईन टेस्ट , लिपिड प्रोफाइल, किडनी प्रोफाइल, बुखार, (डेंगू, मलेरिया, टाइफाइड) , एच आई वी ब्लड ग्रुप और सम्पूर्ण शारीरिक जांच की जा रही है इन शिविरों में एनडीआरएफ के विशेष चार चिकित्सीय दल जिसमें डॉ अभय प्रताप, डॉ अमित नंदन त्रिपाठी , डॉ मीरा कुमारी और डॉ गनः के द्वारा समस्त परीक्षण, डाइग्नोसिस और निशुल्क इलाज़ किया जा रहा है।


इसके साथ-साथ एनडीआरएफ की टीम के द्वारा इन्ही चिकित्सा शिविरों में आये लोगों को प्राकृतिक आपदाओं जैसे बाढ़, भूकंप, अग्निकांड, भूस्खलन आदि के दौरान सावधानियों, बचाव व प्राथमिक उपचार की जानकारी दी जा रही है । लोगों को इस जागरूकता कार्यक्रम के तहत प्राथमिक उपचार में बहते हुए रक्त को रोकने, फ्रेक्टर को सिक्योर करने, गंभीर शारीरिक चोट जैसे सिर, छाती, आँख की चोटों के दौरान दिए जाने वाले प्राथमिक उपचार के बारे में बताया । इसके अतिरिक्त सांप के काटने व कुत्ते के काटने पर भी प्राथमिक उपचार की जानकारी दी ।

10 जून 2017 को आयोजित किये गए शिविर में 1158 लोगों को निशुल्क उपचार प्रदान किया गया जिसमें 124ई सी जी और 182 लोगों का पैथोलॉजिकल टेस्ट किया गया। उपरोक्त स्वास्थ्य शिविरों में भारी उत्साह है तथा निशुल्क इलाज़ की सुविधा पाकर सारे गरीब परिवार की महिलाएं व वृद्ध लोग एनडीआरएफ की विशेष पहल को तहे दिल से कोटि कोटि आभार दे रहे हैं।

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here