नेता जी सुभाषचंद्र बोस के गनर ने किया बड़ा खुलासा, कांग्रेसी नेता के इशारे पर रूस में नेता जी को दी गयी थी फाँसी

0
2031

दिल्ली- आज़ादी के महानायकों में से एक और इकलौते एक ऐसे सख्स जिनके नाम से पूरा का पूरा अंग्रेजी कुनबा काँप उठता था उन नेता जी की जिंदगी उनके जीते जी जितना अधिक अंग्रेजों के लिए रहस्यमय थी उनकी म्रत्यु भी आज तक हर हिन्दुस्तानी के लिए भी उतनी ही अधिक रहस्यमय बनी हुई है I

नेता जी की जिंदगी को लेकर आये दिन एक न एक खुलासे होते रहते है कभी उनके बारे में यह कहा जाता है कि नेता जी की म्रत्यु विमान दुर्घटना में हो गयी थी तो कभी उनके बारे में यह कहा जाता है कि आज़ादी के बाद नेता जी साधू बन गए थे और भारत में छिपे हुए अपना जीवन एक सन्यासी के तौर पर बिता रहे थे I

subhash chandra bose6लेकिन नेता जी के कभी गनर रहे वयोवृद्ध स्वतंत्रता सेनानी जगराम के माध्यम से देश के प्रतिष्ठित अखबार दैनिक जागरण ने अपनी वेबसाइट के माध्यम से लिखा है कि, “नेता जी के बारे में सही और पुख्ता जानकारी केवल और केवल रूस ही बता सकता है I उन्होंने कहा है कि भारत सरकार को चाहिए कि रूस की सरकार से बात करे और नेता जी के ऊपर चल रही बहस को विराम दे I स्वतंत्रता संग्राम के सेनानी और नेता जी गनर रहे जगराम कहते है कि इस खुलासे को यदि कोई कर सकता है तो वह केवल प्रधानमंत्री श्री मोदी ही ऐसा कर सकते है I इसके अलावा उन्होंने कहा है कि किसी और सरकार से इस मामले पर आसा भी नहीं की जा सकती है I

एक दिग्गज कांग्रेसी नेता को नेता जी से था खतरा –

स्वतंत्रता के लिए अपना सब कुछ निछावर करने वाले स्वतंत्रता संग्राम सेनानी ने इस बात का भी खुलासा किया है कि, “नेता जी से सम्बंधित किसी भी प्रकार की जानकारी पर हमें कांग्रेस की सरकार से तो बिलकुल भी आशा नहीं रखनी चाहिए I इस बात को और अधिक मजबूती से कहते हुए उन्होंने कहा है कि कांग्रेस के एक पुराने नेता को सबसे ज्यादा नेता जी से ही खतरा था I

उन्होंने यह भी कहा है कि पिछले इतने दिनों से नेता जी के ऊपर जिस तरह से बहस बाजी हो रही है उससे इतना अधिक हमें कष्ट हो रहा है जितना तो हमें कष्ट तब नहीं हुआ जब अंग्रेजों की सरकार भारत में थी और हमें अनेकों अनेक यातनाएं दी गयी थी I

शेर थे नेता जी, वह किसी से कभी छिपने वालों में से नहीं थे –

subhash chandra bose5वयोवृद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानी ने कहा है कि लोग कहते है कि नेता जी साधु बन कर छिप-छिप कर अपना जीवन बिता रहे थे तो कोई कहता है कि जब लाल बहादुर शास्त्री रूस गए थे तब नेता जी उनके साथ वहाँ पर देखे गए थे I इस पर नेता जी के गनर ने कहा है कि इस तरह की बातें वही लोग कर सकते है जिन लोगों को नेता जी के बारे में जानकारी नहीं है I ऐसा वही लोग कहते है जिन्होंने नेता जी जैसी सख्सियत अभी तक देखी नहीं है I उन्होंने कहा है कि ब्यक्ति के नाम से पूरा का पूरा अंग्रेजी कुनबा काँप उठता था, जिसके सामने हिटलर और मुसोलिनी जैसे तानाशाह बौने दिखते थे वह ब्यक्ति भला अपने देश या फिर दुनिया में कही भी छिपा हुआ रहेगा I ऐसा कहकर आजादी के उस महानायक का अपमान किया जा रहा है इसके अलावा और कुछ नहीं I

उन्होंने बताया है कि सच्चाई यह है कि रूस के तत्कालीन तानाशाह स्टालिन के इशारे पर नेता जी को फाँसी दी गयी थी और ऐसा स्टालिन ने दिग्गज कांग्रेसी नेता के कहने पर किया था I उन्होंने यह भी कहा है कि यदि नेता जी जीवित होते तो देश के पहले प्रधानमंत्री वह खुद बनते न कि कोई और I

कांग्रेस पर लगाया नेता जी की छवि धूमिल करने का आरोप –

subhash chandra bose4नेता जी के गनर रहे वयोवृद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानी ने कहा है कि, “कांग्रेसियों ने नेता जी के बारे में केवल और केवल झूठा प्रचार किया है I उन्होंने आरोप लगते हुए कहा है कि नेता जी के बारे में झूठी अफवाह उडाई गयी थी कि नेता जी की मौत विमान दुर्घटना में हो गयी थी लेकिन उन्होंने कहा है कि यदि उनकी मौत उस विमान दुर्घटना हुई थी तो उनके साथ ही विमान में सवार कर्नल हबीबुर्रहमान कैसे बच गए थे वह भी तो उसी विमान में सवार थे I

मोदी से जताई आस और कहा कि बहस पर लगे विराम –

नेता जी के गनर रहे जगराम ने कहा है कि नेता जी के ऊपर चल रही आधारहीन बहस को तुरंत ही बंद किया जाना चाहिए I उन्होंने कहा है कि यह सच है कि नेता जी को रूस में फाँसी दी गयी थी I और यह भी कहा है कि इस सम्बन्ध पर पुख्ता जानकारी केवल और केवल रूस की सरकार ही दे सकती है I

subhash chandra bose3वयोवृद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानी जगराम ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की तारीफ़ करते हुए कहा है कि आज मोदी की धाक पूरी दुनिया में है और यदि प्रधानमंत्री मोदी नेता जी की सच्चाई को दुनिया के सामने नहीं ला सकते है और किसी भी नेता से इस बात पर आसा करना बेकार है I

उन्होंने कहा है कि नेता जी जैसे महानायक के जीवन के ऊपर से पर्दा उठना ही चाहिए और इस बात का भी खुलासा होना चाहिए कि आखिर रूस ने नेता जी को फाँसी क्यों और किसके इशारे पर दी थी I

इनपुट- http://www.jagran.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here