मित्र पुलिस ने परिजनों से मिलाया 280 गुमशुदा बच्चों को

0
73

देहरादून(ब्यूरो)- पुलिस महानिदेशक एमए गणपति द्वारा प्रदेश में गुमशुदा बच्चों की तलाश एवं पुनर्वास हेतु ऑपरेशन स्माइल अभियान को दोबारा एक से 30 जून तक चलाये जाने हेतु निर्देशित किया गया था। अभियान में समस्त टीमों के कठिन परिश्रम, लगन व मेहनत से कुल 331 गुमशुदा बच्चों को बरामद किया गया है, जिसमें से 51 पंजीकृत तथा 280 अपंजीकृत हैं।

बरामद कुल 331बच्चों में 280 बच्चों को उनके परिजनों के सुपुर्द किया जा चुका है तथा शेष 51बच्चों को पुनर्वास हेतु बालगृह दाखिल किया गया है, जिनके परिजनों के सम्बन्ध में आवश्यक जानकारी की जा रही है।

बरामद बच्चों में से 147 बच्चे अन्य राज्यों (उप्र-75, बिहार-13, दिल्ली-4,नेपाल-30, हिप्र-2, पंजाब-8, हरियाणा-4,राजस्थान-4, झारखण्ड-3, छत्तीसगढ़-2,आसाम-1, पबं-1)से सम्बन्धित हैं। उक्त टीमों द्वारा अन्य प्रदेशों के कुल 15 पंजीकृत गुमशुदा बच्चों को बरामद कर उनके परिजनों के सुपुर्द किया गया है।

प्रदेश के गुमशुदा बच्चों को तलाश किये जाने हेतु ऑपरेशन स्माइल की 14 टीमों को, मुम्बई, हरियाणा, पंजाब, हिमाचल, दिल्ली, उप्र आदि स्थानों पर भेजा गया था। उक्त प्रदेशों के सम्बन्धित जनपदों के वरिष्ठ/पुलिस अधीक्षक/पुलिस उपायुक्त से प्रदेश पुलिस द्वारा समन्वय स्थापित किया गया, जिनके द्वारा अभियान में टीमों को पूर्ण सहयोग प्रदान किया गया।

प्रदेश में गुमशुदा बच्चों की तलाश हेतु चलाये जा रहे उक्त ऑपरेशन स्माइल की जनता द्वारा काफी प्रशंसा की गयी एवं गुमशुदा बच्चों को परिजनों से मिलाने पर उनके द्वारा पुलिस का आभार प्रकट करते हुए धन्यवाद किया गया ।

उक्त अभियान में जनपद हरिद्वार में 05, देहरादून, नैनीताल, ऊधमसिंहनगर में 4-4 टीम व शेष जनपदों में 1-1 तलाशी टीम (प्रत्येक टीम में उपनिरीक्षक-1, आरक्षी-4),का गठन किया गया, जिनके सहयोग हेतु 1-1 विधिक व टेक्निकल टीम भी नियुक्त की गयी। प्रदेश स्तर पर ऑपरेशन स्माइल का पर्यवेक्षण नोडल अधिकारी शाहजहाँ जावेद खान, अपर पुलिस अधीक्षक, एएचटी द्वारा किया गया।

अभियान ऐसे समस्त सम्भावित स्थान जहां बच्चों के मिलने की सम्भावना अधिक है, जैसे शेल्टर होम्स/ढाबों/कारखानों/बस अड्डा/रेलवे स्टेशन आदि में चलाया गया। अभियान में अन्य सम्बन्धित विभागों का भी सहयोग लिया गया।उपरोक्त तलाशी टीमों द्वारा अपने जनपद के साथ-साथ अन्य जनपदों/राज्यों के गुमशुदा बच्चों को भी तलाश किया गया।

पुलिस महानिदेशक उत्तराखण्ड एमए गणपति द्वारा ऑपरेशन स्माइल अभियान की समीक्षा की गयी, जिसमें समस्त टीमों को गणपति द्वारा शुभकामनांए दी तथा उनके काम की सराहना की गयी एवं उनके द्वारा प्रत्येक तलाशी टीम को रू0 5000/- तथा तकनीकी टीम को उत्तम प्रवष्टि प्रदान करने की घोषणा की गयी।

उक्त समीक्षा गोष्ठी में अशोक कुमार, अपर पुलिस महानिदेशक, प्रशासन, संजय गुन्जयाल, पुलिस महानिरीक्षक, पी0/एम0, जीएस मर्तोलिया, पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस मुख्यालय, उत्तराखण्ड अन्य पुलिस अधिकारी व समस्त टीम के प्रभारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here