शिलान्यास के उपरान्त निर्माणाधीन विकास कार्यों को समय से पूरा करावें सम्बन्धित विभागीय अधिकारी-डी0एम0

0
45

श्रावस्ती (ब्यूरो): प्रदेश सरकार जन-जन के उत्थान हेतु प्रतिबद्ध है इसलिए जनता की आवश्यकताओं के अनुरूप तमाम निर्माणाधीन विकास कार्य कराये जा रहे हैं सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों का दायित्व बनता है कि वे दफ्तर छोड़े फील्ड में जायें और हो रहे निर्माणाधीन विकास कार्यों को गुणवत्ता के साथ समय सीमा के अन्तर्गत पूरा करायें। सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों का यह भी दायित्व बनता है कि यदि निर्माणाधीन कार्य में कोई कमी प्रतीत होता है तो उसकी भी समय रहते रिपोर्ट प्रेषित करें ताकि जिलास्तर पर गठित तकनीकी टीम से जांच करायी जा सके यदि जांच के दौरान कमी मिली तो सम्बन्धित विभाग व कार्यदायी संस्था के विरूद्ध कार्यवाही की जा सके।

उक्त निर्देश कलेक्ट्रेट सभागार में निर्माणाधीन विकास कार्यों की गहन समीक्षा करने के दौरान जिलाधिकारी दीपक मीणा ने दिया है। समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि धन देने के बावजूद कई आंगनवाड़ी केन्द्रों का निर्माण कार्य बहुत शिथिल गति से किया जा रहा है इस पर जिलाधिकारी ने गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्यदायी संस्था ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग के अधिशाषी अभियन्ता पर नाराजगी जताते हुए कार्य में तेजी लाने की नसीहत दी है।

विकास भवन में एन0आर0एल0एम0 केन्द्र का निर्माण, जनपद में निर्माणाधीन फायर स्टेशन एवं बाउण्ड्री वाल के निर्माण हेतु जिन कार्यदायी संस्थाएं नामित है वे अपने कार्य में तेजी लावे तथा समय सीमा के अन्तर्गत गुणवत्ता पूर्ण ढंग से निर्माणीन कार्यों को पूरा करें अन्यथा शिथिलिता बरतने वाली कार्यदायी संस्था को सूचीबद्ध कर कार्यवायी हेतु शासन को पत्र प्रेषित किया जाएगा। इसके अलावा जिलाधिकारी ने लोक निर्माण विभाग, बेसिक शिक्षा, आई0सी0डी0एस0, विकास, माध्यमिक शिक्षा, न्याय, अल्पसंख्यक, पुलिस आदि विभागों के निर्माणाधीन कार्यों की गहन समीक्षा की तथा समय सीमा के अन्तर्गत निर्माण कार्यों को गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूरा कराने हेतु सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिया कि दफ्तर के साथ-साथ फील्ड में भी जाना होगा और गांव में संचालित अपनी विभागीय योजनाओं का सत्यापन कर हरहाल में पात्र जनों को लाभान्वित करना होगा ताकि कोई भी गरीब व्यक्ति सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं से वंचित न रह जाय।

रिपोर्ट:-पंकज वर्मा 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here