एक ऐसा अद्भुत मद्निर जहां गुप्त श्रोत से प्रवाहित होती है गंगा, वैज्ञानिक भी न लगा सके पता

0
2245

पिंक सिटी के नाम से पूरी दुनिया में मशहूर जयपुर से बस थोड़ी ही दूरी पर एक ऐसा तीर्थ स्थान है जहां पर प्रतिदिन दुनिया भर के टूरिस्ट और श्रद्धालु दर्शन करने के लिए आते है | यह दुनिया का एक मात्र ऐसा तीर्थ स्थान है जहां पर तीनों देवों (ब्रह्मा, विष्णु और महेश) एक ही साथ विराजमान है | इस मंदिर की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इस मंदिर में किसी गुप्त स्थान से जल का प्रवाह होता है लेकिन आजतक कोई भी वैज्ञानिक या फिर कोई अन्य व्यक्ति इस बात का पता नहीं लगा सका है कि यह जल आखिर आता कहाँ से है ?

महर्षि विश्वामित्र के शिष्य गलवा जी महराज ने यहाँ की थी तपस्या-
लोगों की मान्यता है कि इस स्थान पर महर्षि विश्वामित्र के शिष्य श्री गलवा जी महराज ने कभी पुरातन काल में तपस्या की थी | गलवा जी महराज की तपस्या से प्रशन्न होकर ही त्रिदेवों ने उन्हें एक साथ यहाँ पर दर्शन दिए थे | जिसके बाद से ही त्रिदेवों के एक मंदिर की यहाँ स्थापना हुई है |

यहाँ आने वाले श्रधालुओं का मानना है कि ऋषि विश्वामित्र के शिष्य गलवा जी महराज की तपस्या से प्रशन्न होकर माँ गंगा यहाँ पर गुप्त रूप से प्रकट हुई थी और इसी का जल आज भी यहाँ प्रवाहित होता है | श्रधालुओं का यह भी मानना है कि जब भी तीर्थों पर स्नान होता है तो त्रिदेवों सहित सभी देवी देवता यहाँ पर स्नान करने के लिए आते है | यही कारण और इसी मान्यता के आधार पर आज भी यहाँ आने वाले श्रद्धालु यहाँ के स्नान को किसी महाकुम्भ में स्नान करने के बराबर ही मानते है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here