गंदगी के अंबार से बीमारियों का खतरा, सरकार का स्वच्छता अभियान फुस्स

0
233
प्रतीकात्मक फोटो

रायबरेली (ब्यूरो)- सतांव क्षेत्र की लगभग सभी ग्राम पंचायतों मे सरकार का स्वच्छता अभियान भयंकर गंदगी का शिकार है। पंचायतों मे नियुक्त सफाई कर्मचारी ब्लाक के सहायक विकास अधिकारी के इर्द-गिर्द घूमकर नौकरी पक्की कर रहे है, जबकि गांवों मे कूडे-कचरे के अम्बार लगे हुये है।

जिन गांवों मे पंचायत के माध्यम से नाली-खडंजा का काम कराया जा रहा है वहाँ गाँव के लोगों ने नालियाँ साफ की, कूडा उठाया लेकिन सूचनाओं व शिकायतों के बाद भी सफाई कर्मी नहीं पहुँचे। हद तो तब हो गयी जब एक ग्राम पंचायत के प्रधान प्रतिनिधि ने अपनी पंचायत के सफाई कर्मचारी की लापरवाही व लगातार अनुपस्थिति की सूचना अधिकारियों को दी, लेकिन कर्मचारी पंचायत के किसी गाँव नहीं पहुँचा।

एडीओ पंचायत कार्यालय मे जमे रहने वाले करीब डेढ दर्जन सफाई कर्मचारी किसी प्रधान या उसके प्रतिनिधि की बात नही सुनते क्योंकि उनका वेतन पंचायत सेक्रेटरी की कृपा से मिल जाता है।

रिपोर्ट- राजेश यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here