घर में सो रही युवती से सामूहिक दुष्कर्म, कार्रवाई के बजाय थाने में हो रही पंचायत

0
42

जौनपुर/वाराणसी (ब्यूरो)- यूपी के जौनपुर में मछलीशहर कोतवाली अन्तर्गत एक गांव में रविवार को दो युवकों ने शराब के नशे में एक किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म किया। युवती जब घर के बरामदे में सोई थी उसी दौरान दोनों ने उसे दबोच लिया। घटना की जानकारी कोतवाली पहुंची तो वहां कार्रवाई के बजाय सुलह-समझौते और पंचायत का दौर चलने लगा। आरोप है कि पुलिस टीम ने पीड़िता से सादे कागज पर हस्ताक्षर भी कराए हैं। हालांकि पुलिस इसे मारपीट का मामला बता रही है।

रात में हुई इस घटना के बाद जब किशोरी ने दुष्कर्म की बात परिजनों को बताई तो सभी सन्न रह गए। परिजन पीड़ित किशोरी को लेकर तत्काल कोतवाली पहुंचे और वहां शिकायत की। कहा गया है कि सोमवार को इस मामले की शिकायत के लिये सौ नंबर पर फोन किया गया, पर टीम वहां नहीं पहुंची। उसी शाम पुलिस ने पीड़ित को फिर थाने बुलाया।

वहां ग्राम प्रधान भी मौजूद थे। वहां परिजनों पर सुलह कर लेने का दबाव बनाया जाने लगा। आरोप है कि जब परिवार नहीं माना तो उनको धमकी भी दी गई। एक सादे कागज पर पीड़िता से हस्ताक्षर करवा कर पुलिस टीम ने अपने पास रख लिया। घटना की सूचना पाकर दिल्ली रह रहा किशोरी का पिता मंगलवार को भाग कर घर आ गया। आरोप लगाया कि पुलिस ग्राम प्रधान के माध्यम से सुलह करने का दवाब डाल रही है।

परिवार के बिना किसी वरिष्ठ सदस्य की मौजूदगी मे पुलिस ने सिर्फ ग्राम प्रधान की उपस्थिति मे पुत्री से किसी कागज पर हस्ताक्षर करवा लिया। पुलिस डरा धमका रही है कि आरोपी ने भी तहरीर दी है। तुम पर भी मुकदमा दर्ज होगा। कोतवाल पन्नग भूषण ओझा ने बताया कि मामला आपसी मारपीट का है। वहीं सीओ सौम्या पांडेय ने घटना की जानकारी होने से साफ मना कर दिया। इन सबके बीच पुलिस ने किशोरी को चिकित्सकीय परीक्षण के लिए भेजना भी जरूरी नहीं समझा।⁠⁠⁠⁠

रिपोर्ट-सर्वेश कुमार यादव

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY