ग्यारह वर्षीय मासूम के साथ वहसी दरिंदो ने किया गैंगरेप, हत्या कर शव को जंगल में फेंका

0
181

प्रतीकात्मक

रायबरेली ब्यूरो : एक बार फिर मासूम बनी दरिंदो की हैवानियत का शिकार ! जी हाँ मानवता को शर्मशार करते हुए वहसी दरिंदो ने 11 वर्षीय नाबालिक से गैंगरेप कर उसकी हत्या कर दी।

शहर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत कोड़र मजरे मटिहा गांव की मासूम को झांसा देकर बुलाया और गैंगरेप कर उसकी हत्या कर दी और शव को जंगल में फेंक दिया। जब सुबह शौच के लिए गए ग्रामीणों ने देखा तो पुलिस को सूचना दी।
सीओ सिटी श्वेता श्रीवास्तव तथा शहर कोतवाल ने फ़ोर्स सहित मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया है।

मिली जानकारी के अनुसार उक्त गांव निवासी शिवप्रताप यादव की बड़ी पुत्री रोशनी को शर्प ने काट लिया था और वह उसे लेकर आस्तीक बाबा मंदिर गंगागंज गया हुआ था। और घर में 11 साल की छोटी बेटी रागिनी घर में थी जो प्राइमरी स्कूल की छात्रा है। गांव के ही एक घर में निमंत्रण था उसी में शामिल थी। बताया गया कि उसी दौरान 3 लड़को ने रागिनी से कहा कि तुम्हारे घर वाले बुला रहे है, उन के साथ चली गयी, तब से उसका कोई पता नही चला । सुबह जब गांव के बाहर शौच के लिए गए ग्रामीणों व सूचना पर पहुंची पुलिस ने देखा कि औंधे मुंह लाश पड़ी है, और गले पर जख्म थे पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम हेतु भेज दिया। इस घटना से पूरे गांव में सन्नाटा रहा।

मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक अब्दुल हमीद ने परिवार वालो को ढांढस बंधाया और कहा कि जल्द ही दरिदों को गिरफ्तार किया जायेगा। फ़िलहाल उन तीन लड़कों को की तलाश जारी है जो बुलाकर ले गए थे। जिस हालात में शव मिला उससे पुलिस का मानना है कि बच्ची के साथ गैंगरेप से इंकार नही किया जा सकता है।

रिपोर्ट – राहुल यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY