गंगा स्नान करने गए जीजा-साला को ट्रक ने कुचला

0
35

रोसड़ा/समस्तीपुर (ब्यूरो)- त्योहार के दिन क्षेत्र के दो घरो में मातम छा गया. रक्षाबंधन एवं सावन की आखिरी सोमवारी पर जहां शिव भक्ति और शांति तथा स्नेह की उम्मीद की जाती है. पर, रोसड़ा थाना क्षेत्र के दो घरों में गमों का पहाड़ टूट पड़ा है. एक अनियंत्रित ट्रक के द्वारा कुचल दिए जाने से एक घर के बेटा- भाई की दर्दनाक मौत हो गयी तो दूसरा पटना के पीएमसीएच में जिंदगी और मौत से लड़ रहा है. दोनों युवक रिश्तेदार थे. मृतक जीजा था और बुरी तरह घायल युवक साला है.

दोनों बड़े अरमान से सोमवार को अहले सुबह घर से गंगा नहाने एवं पूजा-पाठ कर अपने घर पर आकर बहन से राखी बंधाने के मंसूबे से घर से निकले थे. मृतक जीजा थाना क्षेत्र के ढरहा गांव का रहने वाला था व घायल साला पबड़ा गांव का रहने वाला है. शव के घर पहुंचते ही ढरहा गांव स्थित मृतक शिवराम राय के घर पर कोहराम मच गया है. परिजनों का रोते-रोते बुरा हाल बना हुआ है.

ढाढस देने काफी लोग जुटे हुए हैं पर परिजनों के रोने-बिलखने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. इस मर्माहत कर देने वाली घटना से दो घरों की बहनों का अपने भाई की कलाई पर राखी बांधने की तमन्ना धरी की धरी रह गई.

मिली जानकारी के अनुसार आज अहले सुबह करीब 5.30 बजे जीजा शिवराम राय अपने साला बुलबुल चौधरी के साथ मोटरसाइकिल से गंगा स्नान व पूजा पाठ करने बेगूसराय जिला अंतर्गत बछवाड़ा स्थित सुप्रसिद्ध गंगा घाट झमटीया के लिए अपने घर से निकले थे. दोनों झमटीया पहुंचने ही वाले ही थे कि विपरीत दिशा से आ रही एक अनियंत्रित ट्रक ने मोटरसाइकिल को कुचलते हुए भाग निकला. जिससे मोटरसाइकिल सवार दोनों युवक गंभीर रूप से घायल हो गये.

आनन फानन में स्थानीय लोगों ने दोनों घायल युवक को इलाज के लिए बछवाड़ा के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले गये. वहां चिकित्सको ने जीजा शिवराम राय को मृत घोषित कर दिया और साला बुलबुल चौधरी की स्थिति को गंभीर देख उसे पटना के पीएमसीएच रेफर कर दिया. सूचना पर दोनों युवको के परिजन बछवाड़ा के प्राथमिक स्वस्थ्य केंद्र पहुंचे. इसके पश्चात जहां मृतक के शव को घर लाया वहीँ गंभीर रूप से घायल युवक को बेहतर इलाज के लिए पटना ले जाया गया.

इधर मृतक शिवराम राय का शव जैसे ही घर पहुंचा वहां कोहराम मच गया. मृतक की पत्नी बुलबुल देवी, मां जगतारण देवी, पिता, बहन, बच्चे आदि दहाड़ मार-मारकर रोने लगे. इनलोगों को संभालने में दर्जनों लोग लगे हुए थे. पर उन्हें संभाल नहीं पा रहे थे. मां, पत्नी और बहन का रोना देख ढाढस बंधाने वाले लोगों का भी धैर्य जवाब दे रहा था. उनकी आंखों में भी आंसू आ रहे थे.

ग्रामीणों का कहना था कि त्योहार के दिन ये हादसा होना काफी दुखद बात है. भगवान की ही पूजा पाठ करने गये युवक को भगवान ने इस दुनिया से उठा लिया. इस दुखद घटना से गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है. रिश्तेदारों ने बताया कि मृतक का एक आठ वर्षीय पुत्र अमन है एवं एक छह वर्षीया पुत्री मुस्कान है. रघुवर शरण राय के पुत्र  शिवराम राय की इस दर्दनाक मौत से उसकी पत्नी और छोटे बच्चों पर बहुत बड़ा जुल्म भगवान ने कर दिया है. मौके पर क्ष्रेत्र के दर्जनों जनप्रतिनिधि भी पहुंचे हुए थे.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY