गौवंश हित मे भूसा की तस्करी बंद हो – गौशाला संचालक 

0
93

सहार/औरैया (ब्यूरो)- औरैया गौवंश के हित मे जिले से भूसा की तस्करी बंद होनी चाहिए | गौशाला संचालकों नमो नरायन अवस्थी जिला गौरक्षा प्रमुख संचालक गोऋषि निहाल जी तनेजा गौशाला डोडापुर अश्वनीकुमार पाण्डेय संचालक विवेकानंद श्रीकृष्ण सहार गौशाला  श्रवण कुमार अगिन्होत्रि संचालक गमा देवी गौशाला किचइया गोपाल पुर ने एक प्रेस वार्ता मे कहा कि किसान गायों को आवारा छोड़ देते है जब तक दूध देतीं है तब तक खूंटे से गाय बाँधी जाती है जब दूध देना बंद कर देतीं है तो गाय और बच्चों को सड़को पर आवारा छोड़ देते है जिसे भूखी होने पर नुकसान करने पर मारपीट कर घायल कर दिया जाता है| कहीँ कँटीले व आरी दार तारो से उलझकर घायल हो जाती है| हम गौशाला मे उन्हे लेकर आते है|

इलाज सहित भूसा दाना कि व्यवस्था करते है जो केवल चन्दा पर निर्भर है | गौवंश के लिए सरकार की ओर से वैसे भी कोई मदद नहीँ मिलती है इसीलिये गौवंश अधिकाँश क्षेत्रों मे आवारा घूम रहे है निजी साधन से सीमित गौवंश की सेवा की जा सकतीं है | भूसा के तस्कर भूसा खरीद कर बाहर ले जाते ह! ै जिससे हमारे जिले मे गायों के लिए भूसा कि कमी हो जाती है|

किसान लालच मे तस्करो को भूसा बेच देते है गाय व उनके बच्चों को आवारा करने से हम लोगों को भूसा महँगा खरीदने कि मजबूरी होते है जिससे अंत मे गाय जिसे हम माता कहते है को भूखो मरने कि स्थिति उत्पन्न हो जाती है कोई भी व्यक्ति भूसा का एक टूकड़ा दान मे नही देते है जिसका मुख्य कारण तस्करी है इसलिए भूसा पर तब तक प्रतिबंध लगाया जाना आवश्यक है|

जब तक गौशाला के लिए पर्याप्त मात्रा मे भूसा का स्टाक न हो जाय तब तक जिले से बाहर भूसा ले जाने वाले तस्करो को प्रतिबंधित किया जाना चाहिए क्यों कि माननीय योगी जी की  सरकार गौवंश की रक्षा के लिए कृतसंकल्पित है इसलिए प्रशासनिक अधिकारी गौवंश के हित पर विशेष ध्यान देकर भूसा को जिले से बाहर ले जाने वाले तस्करो पर पूर्णतया प्रतिबंध लगाये जिससे गौवंश भूखो मरने नौबत न आये |

रिपोर्ट- मनोज कुमार 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY