प्रतापगढ़ मे मनचले की छेङखानी से तंग छात्रा ने छोङी पढाई, एस. पी. कार्यालय के सामने धरने के बाद भी नहीं हो रही सुनवाई

rape

प्रतापगढ़ में एक दबंग शोहदे की छेडखानी से तंग आकर इंटर की छात्रा ने पिछले महीने कालेज जाना छोड़ दिया है। गाँव का ही दबंग घर से निकलते ही कालेज के रास्ते तक छात्रा से छेड़खानी करता है और अश्लील टिप्पणियां भी करता है, छेड़खानी और टिप्पणियों का विरोध करने पर हत्या की धमकी भी दे रहा है, पीड़ित छात्रा ने पुलिस में शिकायत मामले की शिकायत की है, लेकिन पुलिस ने कोई कार्यवाही नही की जिससे दबंग शोहदे का हौसला बुलंद है और अब पीड़ित छात्रा अपने परिजनों के साथ इन्साफ के लिए एस पी प्रतापगढ़ के दफ्तर के सामने धरने पर बैठ गयी है और इन्साफ की मांग कर रही है ।

प्रतापगढ़ पुलिस कार्यालय में एस पी साहब की चौखट के  सामने बैठे परिवार का दर्द हर आने जाने वाला पूछता है लेकिन पुलिस अफसरों को इस परिवार का हाल चाल पूछने की भी फुरसत नहीहै, धरने पर बैठा परिवार एक दबंग शोहदे के कारण दहशत में है।

आसपुर देवसरा थाना इलाके के सेतापुर गाँव की रहने वाली सोलह साल की लड़की इलाके के एक कालेज में इंटर की छात्रा है।  उसके गाँव का ही दबंग जय शक्ति तकरीबन तीन माह से उसको छेड़ता है।  उसके अश्लील कमेंट्स की वजह से छात्रा ने गाँव में किसी के घर आना जाना छोड़ दिया, तो जय शक्ति कालेज आते जाते समय उसको छेड़ने लगा, और अपना हमसफ़र बंनाने की बातें करने लगा।  यह हर दिन का वाकया हो गया तो छात्रा ने महीने भर से कालेज जाना बंद कर दिया। तीन महीने से पीड़ित छात्रा अपने माँ बाप के साथ पुलिस थाने और दफतर के चक्कर लगा रही है लेकिन इन्साफ तो दूर उसे सिर्फ फटकार मिली,  जिसके बाद तंग आकर छात्रा अपने माँ बाप के साथ एस. पी. दफ्तर में धरने पर बैठ गयी।  उसका कहना है कि जब तक उसे इन्साफ नही मिलता वह यही धरने पर बैठी रहेगी।  छात्रा के परिजनों के कहना है कि इन्साफ न मिलने पर वह ऑफिस के सामने ही आत्मदाह कर लेगें।

एक और जहाँ राज्य तथा केंद्र सरकारें बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ के नारे दे रही हैं, वहीँ दूसरी ओर पीड़ित छात्रा और परिजनों की आँखों में आंसू बह रहे हैं, और वह चाहकर भी पढ़ नही पा रही है | उसका रास्ता एक दबंग शोहदे ने रोक रखा है और पुलिस मूक दर्शक बनी हुई है |

इस मामले में पुलिस अफसर कुछ भी बोलने को तैयार नही है, सवाल यह है कि क्या पुलिस दबंग शोहदे के खौफ से मजबूर छात्रा के आत्मघाती कदम का इन्तजार कर रही है ?  क्या पुलिस दबंग शोहदों के साथ खड़ी है या फिर उत्तर प्रदेश पुलिस अपनी बदहाल छवि से उबरना नही चाहती है ?  फिलहाल यह सब वक्त के साथ ही साफ़ हो पायेगा कि आखिर पीड़ित छात्रा को इन्साफ मिलेगा या नही |

रिपोर्टर – राजाराम वैश्य

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here