जौनपुर के बरसठी पूर्वी उत्तर प्रदेश में बाल काटने की घटना पीड़िता हुई बेहोश

जौनपुर (ब्यूरो) जिले के बरसठी थाना के गहली गांव में सुबह भोर में घटी । सूचना पर 100 नंबर की पुलिस भी मौके पर पहुँच गयी। प्राप्त जानकारी के अनुसार गहली गांव की सुनीता गौतम (18) वर्ष अपने माँ के साथ भोर में शौच के लिए गयी थी, शौच से वापस आकर पुनः अपने विस्तर पर सो गयी और उसकी माँ अपने विस्तर बैठकर सुबह होने का इंतजार करने लगी। कुछ समय बाद सुनीता अचानक से मुंह से गू-गू की जोर जोर से आवाज निकालने लगी। माँ जबतक सुनीता के पास पहुँचती सुनीता बेहोश हो गयी थी। माँ ने देखा की सुनीता के बाल कटकर निचे जमीन पर गिरे हुए थे। सुनीता के माँ के रोने और चिल्लाने की आवाज सुनकर आस पास के लोग भी मौके पर जूट गए.और सुनीता को घर से बहार निकाले।

किसी ने इस घटना की सूचना 100 पुलिस को दे दी तथा 108 नंबर की पुलिस भी मौके पर पहुँच गयी। बाल कटने की बात सुनकरगहली ही नहीं अन्य गाँवो के महिला पुरुष भी सुनीता के दरवाजे पर पहुँच गए। पुलिस भी अपने तरह से जांच पड़ताल की लेकिन मौके से कुछ मिला नहीं। बेहोशी की हालात में एम्बुलेंस से इलाज के लिए सुनीता को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बरसठी ले गए, जहाँ अभी तक सुनीता बेहोश ही है। ऐसे में प्रश्न यह उठता है कि इस तरह की घटी सच्ची घटना को क्या कहा जाय।वैसे गहली में घटी घटना से गांव तथा क्षेत्र की महिलाओं में डर फ़ैल गया है। वैसे राजस्थान सरकार ने मैकी नामक कीड़ा का एक चित्र जारी करके कहा की बाल काटने की घटना सही है, इस से जिस का बाल यह कीड़ा काटता है, वह बेहोश हो जाता है।इस लिए इससे डरने की जरुरत नहीं है।

रिपोर्ट – फिरोज अंसारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here