युवती ने ट्रेन के आगे कूदकर दी जान

0
59


उन्नाव (ब्यूरो) कम्प्यूटर कोचिंग सेंटर के लिए घर से निकली छात्रा ने अपनी सहेली को साइकिल देकर उन्नाव जाने की बात कह कर बस में सवार होकर मेथीटीकुर रेलवे स्टेशन के पास ट्रेन के आगे कूद गयी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गयी डायल 100 ने इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहां डाक्टरों ने उसकी हालत नाजुक देख ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर कर दिया जहां उसकी मौत हो गई।

माखी थाना क्षेत्र के मेथीटीकुर रेलवे स्टेशन के आगे पुलिया के पास बैठ कर ट्रेन का इंतजार कर रही थी तभी बालामऊ से कानपुर जाने वाली पैसेंजर ट्रेन आ गयी और वह पलक झपकते ही ट्रेन के आगे कूद गयी हसनगंज थाना क्षेत्र के बघवा कोला गांव निवासी राम सजीवन की पुत्री खुशबू 18 वर्ष बीए दितीय वर्ष की छात्रा थी वह मियांगज स्थित एक कम्प्यूटर सेन्टर पर कम्प्यूटर सीखने के लिए साइकिल से जाती थी सेंटर पहुँच कर उसने अपनी सहेली को साइकिल देकर कहा कि वह किसी काम से उन्नाव जा रही है और वह मियांगज से प्राइवेट बस में सवार होकर मेथीटीकुर रेलवे स्टेशन के पास उतर गयी और स्टेशन के आगे पुलिया के पास बैठ गयी खेतों में काम कर रहे |

किसानों ने बताया कि वह काफी देर से बैठी थी और डायरी में कुछ लिख रही थी तभी कानपुर की ओर जाने वाली पैसेंजर ट्रेन आ गयी और वह ट्रेन के आगे कूद गयी जिससे गंभीर रूप से घायल हो गयी सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहां डाक्टरों ने ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर कर दिया परिजन वहां तक पहुचे ही थे कि उसकी अस्पताल गेट पर मौत हो गई पिता ने किसी भी तरह की बात होने से इंकार किया कहा कि घर में किसी भी प्रकार का कोई विवाद नहीं था मृतका की मां दुलारी को जब मौत की खबर सुनकर बदहवास हो गई मृतका तीन भाइयों करन, नदू व अमन के बीच अकेली बहन थी परिजन किसी भी तरह के मामले से इन्कार कर रहे हैं।

रिपोर्ट-अशोक दुबे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here