छेड़छाड़ से परेशान लड़की ने मौत को लगाया गले, लिखा दर्दनाक पत्र

0
206

देहरादून- देवभूमि के नाम से विख्यात उत्तराखंड में इन दिनों अपराधों की संख्या दिन ब दिन बढ़ती ही जा रही है। खासकर यदि महिलाओं के प्रति हो रहे अपराधों की बात करें तो इनमें उत्तराखंड अपने चरम की तरफ लगातार बढ़ रहा है। वर्तमान सरकार ने सत्ता में आने से पहले महिलाओं के प्रति हो रहे अपराधों पर अंकुश लगाने हेतु बड़े-बड़े वादे किये थे परन्तु कहीं न कहीं सरकार इन पर अंकुश लगाने में पूर्णतः फेल हुई है।

दरअसल आपको बता दें कि ऐसा इसीलिए कहा जा रहा है क्योंकि उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में एक युवती ने छेड़छाड़ से तंग आकर कल मौत को गले लगा लिया है। लेकिन छात्रा ने खुदखुशी करने से पहले 2 पेज का एक सुसाइड नोट लिखकर अपने भाइयों के नाम छोड़ा है। जिसमें लड़की ने बताया कि किस तरह से उसके पड़ोस का ही एक लड़का उसे जबरन परेशान करता था और उसका जीना मुहाल कर रखा था।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मंजीता पुत्री धनीलाल ग्राम सुराड़ी, थाना पुरोला, उत्तरकाशी जनपद की रहने वाली थी जो कि अपने दो भाइयों के साथ देहरादून के बकरालवाला में रह रही थी। मंजीता देहरादून के ही एमकेपी कॉलेज में पढ़ाई कर रही थी, वह अपने जीवन में कुछ पद प्राप्त करना चाहती थी, पढ़लिखकर आगे बढ़ना चाहती थी।

परन्तु पड़ोस का एक लड़का उसे बुरी तरह से परेशान कर रहा था, उसने उसका जीना दुश्वार कर रखा था जिसका जिक्र उसने अपने सुसाइड नोट में किया है। लड़की ने उस लड़के का नाम सचिन बताते हुए लिखा है कि सचिन ने मुझे बताया है कि उसने और कई लड़कियों को अपनी हवश का शिकार बनाया है और वह उसे भी नहीं छोड़ेगा। .

दरअसल आपको बता दें कि लड़की ने सुसाइड तब किया जब उसका छोटा भाई स्कूल और बड़ा भाई ड्यूटी करने के लिए गया हुआ था। जब दोनों भाई शाम को वापस अपने कमरे पर लौटे तो उन्होंने भीतर से दरवाजा बंद पाया, काफी आवाज देने पर भी जब कमरे का दरवाजा नहीं खुला तो उन्होंने रोशनदान से कमरे के अंदर देखा जहाँ लड़की चुन्नी के सहारे पंखे से लटकी हुई थी। बाद में पड़ोसियों और पुलिस की मदद से दरवाजे को तोड़कर पुलिस ने शव को बाहर निकाला, बताया जा रहा है कि लड़की ने जहाँ पर सुसाइड किया था वही कमरे में उसने भाइयों के नाम एक पत्र भी लिख छोड़ा था। फिलहाल आरोपी फरार है लेकिन पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here