पुलिस को दीजिए महीने में डेढ़ हजार और करिये खुलेआम दलाली

0
366


रायबरेली(ब्यूरो)-
रायबरेली में सत्तारूढ़ भाजपा के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी भले ही पूरे देश में भ्रष्टाचार समाप्त करने की मुहिम चला रहे हैं लेकिन अगर वह मिल एरिया पुलिस के कारनामो पर अंकुश लगा सके तभी उनके घोषणापत्र व संकल्पों को सार्थक माना जाएगा| इस थाने की पुलिस ने अवैध कमाई का नया नुक्स निकाला है| जिसके तहत हर महीने लगभग डेढ़ लाख रुपए की गोपनीय कमाई शुरू है|

सूत्रों के अनुसार इस समय सर्वाधिक राजस्व कमाई वाला विभाग रायबरेली माना जा रहा है| सरकारी बजट का एक बड़ा हिस्सा यहां से शासन को प्राप्त होता है| यही कारण है इसके विभाग में अघोषित 100 से अधिक दलाल सक्रिय हैं| इसमें अधिकतर तो पुराने घाघ टाइप के है जबकि तमाम लोगों ने दलाली का कारोबार इतनी तेजी से शुरू कर दिया है कि इन दलालों के बिना विभाग में किसी कार्य की सुनवाई असंभव सी रहती है| दलालों की बढ़ती जनसंख्या को देखकर पुलिस की बांछे खिल गई और पुलिस ने एक नुस्खा के तहत प्रति दलाल 1500 रुपए का टैक्स बांध दिया है क्योंकि सभी दलाल चिन्हित हैं| इसलिए उनकी बकायदे सूची बना ली गई है पुलिस ने बड़ी चलाकी से एआरटीओ कार्यालय में ठीक सामने एक अघोषित पुलिस चौकी भी बना रखी है ताकि कोई भी दलाल शुल्क देने से ना बचे|

मजे की बात यह है कि पुलिस वाले जागरूक भी हैं एक दलाल ने शुल्क देने से आनाकानी की तब वसूली सिपाही ने हड़काया लेकिन तभी असरदार व्यक्ति ने जब समूचा कच्चा चिट्ठा एस पी के सामने रखने की बात कही तब उस व्यक्ति को बक्सा नहीं जाएगा और इस लिस्ट में नाम काट दिया गया| अफसोस की बात यह है कि इतने बड़े विभाग के बावजूद स्टाफ की जबरदस्त कमी है| विभागीय अधिकारी कर्मचारी कम संख्या में भारी बोझ उठा रहे हैं उसमें उक्त बिचौलिए एआरटीओ को मददगार साबित होते हैं लेकिन पुलिस इन्हें और अवैध कमाई के लिए मजबूर कर रही है |


रिपोर्ट- शिवा मौर्य

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here