ब्रिटेन में छिड़ी अनोखी बहस, गॉड को महिला कहे या फिर पुरुष …???

0
142

ब्रिटेन में गॉड (ईश्वर, भगवान) को लेकर अलग प्रकार की ही लड़ाई शुरू हो गई है। लड़ाई इस बता पर शरू हुई कि गॉड को पुरुष कहें या फिर कहे स्त्री। यानि गॉड को ही लिखें या फिर सी लिखें ? यह पूरा मुद्दा ब्रिटेन की महिला पादरियों ने उठाया है। इस विवाद के चलते रविवार को कैंटरबरी के आर्चबिशप के घर बैठक भी हुई। महिला पादरी चाहती हैं कि प्रार्थना की भाषा बदल दी जाय और उसमें ‘ही’ की जगह ‘सी’ लिखा जाए। ताकि महिलाओं को भी बराबर का दर्जा मिल सके। बुक ऑफ कॉमन प्रेयर को इन्होंने पितृसत्तात्मक बताया है।

church

विरोध कर रही महिला पादरियों ने अपनी बात को रखते हुए तर्क दिया हैं कि गॉड के लिए सिर्फ ‘ही’ लिखे जाने से महिलाएं असहज महसूश कर सकती हैं उनके अन्दर हीन भावना आ सकती हैं Iऑक्सफोर्ड के ट्रिनिटी कॉलेज की महिला पादरी रेव एमा पर्सी ने कहा, ‘जब हम गॉड को पुरुष बताने वाली भाषा का इस्तेमाल करते हैं तो लगता है कि भगवान आदमी की तरह है और आदमी भगवान की तरह। यानी इस दुनिया में महिलाएं क्राइस्ट का प्रतिनिधित्व नहीं कर सकतीं।’

 

पर्सी वूमन एंड चर्च (वॉच) नाम के संगठन की सदस्य हैं। इसी संगठन ने यह बहस छेड़ी है। इसकी दूसरी सदस्य रेव जोडी स्टोवेल उनसे सहमत हैं। चर्च ऑफ इंग्लैंड ने जनवरी में ही रेव लिबी लेन को पहली महिला बिशप बनाया था। उसके बाद दो महिला बिशप और बनीं। इसके बाद ही यह मुद्दा सामने आया। ब्रिटेन में पहली महिला पादरी 1994 में बनी थीं। वॉच की अध्यक्ष हिलेरी कोटन भी गॉड को ‘शी’ कहने के पक्ष में हैं। उन्होंने कहा कि ‘गॉड इस सबसे ऊपर है। जब तक हम उसके लिए लैंगिक भेदभाव वाली भाषा का इस्तेमाल करेंगे उस तक पहुंच नहीं सकते।’

इस दिलचस्प बहस में एक सुझाव भी आया कि ‘कॉमन बुक ऑफ प्रेयर’ में एक बार ‘ही’ लिखा जाए और एक बार ‘शी’। इससे लैंगिक भेदभाव खत्म होगा और संतुलन बना रहेगा। महिला पादरी के विरोध में एक दिन पहले ही एंग्लिकन चर्च छोड़ने वाली पूर्व कंजरवेटिव सांसद एन वाइडकॉम ने कहा कि यह मांग हास्यास्पद है।

 

भारत में भी उठ चुका है मुद्दा

इससे पहले भारत में एक आरटीआई के जरिए पूछा गया था कि ईश्वर कौन है, जिसके नाम पर सांसद-विधायक शपथ लेते हैं। जवाब में कानून मंत्रालय ने कहा था कि संविधान में ईश्वर की व्याख्या नहीं की गई। इसलिए जवाब नहीं दिया जा सकता।

data source- danik bhaskar

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

6 + 15 =